श्रद्धा हत्याकांड : आफताब को कोर्ट ने न्यायिक हिरासत में भेजा तिहाड़ जेल

श्रद्धा हत्याकांड में आरोपी आफताब को कोर्ट ने न्यायिक हिरासत में भेजा है, जिसके बाद आरोपी की पहली रात तिहाड़ जेल में बीती है। आफताब को जेल नंबर चार में रखा गया है। सुरक्षा कारणों से आफताब की सेल में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए है। जेल अधिकारियों ने कहा कि आफताब जेल में बिना किसी टेंशन के घूम रहा है। दरअसल दिल्ली पुलिस का कहना था कि श्रद्धा की हत्या के आरोपी आफताब ने पुलिस को लगातार बरगलाने की कोशिश की है। पुलिस जांच में आफताब सहयोग ना करते हुए जानकारी सही से नहीं दे रहा है। इस कारण उसे न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। वहीं जेल जाने के बाद जेल प्रशासन सतर्क हो गया है। उसकी सुरक्षा के लिए भी जरूरी इंतजाम किए गए है।

जानकारी के मुताबिक आफताब की सेल के बाहर एक पुलिसकर्मी तैनात रहेगा, जो आफताब के हर कदम पर नजर रख रहा है। आफताब को खाना देने से पहले उसके खाने की जांच की जाती है, ताकि किसी तरह की कोई गड़बड़ी ना हो सके। आफताब को तिहाड़ जेल के नियमों के मुताबिक ही सादा खाना दिया गया है। खाने के बाद वो कंबल ओढ़कर आराम से रात भर सोया है।

बता दें कि पुलिस ने आफताब को अस्पताल से ही स्पेशल कोर्ट में पेश किया था। माना जा रहा है कि आफताब का नार्को टेस्ट अब सोमवार को कराया जा सकता है। नार्को टेस्ट कराने के लिए पुलिस ने सभी तैयारी कर ली है। नार्को टेस्ट होने से पहले रोहिणी के अंबेडकर अस्पताल में आफताब का मेडिकल टेस्ट हुआ है, जिसमें नार्को टेस्ट करने के लिए जरूरी जांच की गई है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में दक्षिण दिल्ली के महरौली इलाके में अपनी सह जीवन साथी श्रद्धा वालकर की हत्या करने का आरोप आफताब अमीन पूनावाला पर है। आरोपी ने कथित तौर पर 27-वर्षीय श्रद्धा का गला घोंट दिया और उसके शव के 35 टुकड़े कर दिये, जिसे उसने अपने महरौली स्थित आवास पर लगभग तीन सप्ताह तक 300 लीटर के फ्रिज में रखा और फिर कई दिनों तक शहर भर में फेंकता रहा था।