IFA WC : मेसी की अर्जेंटीना को क्रोएशिया ने 3-0 से रौंदा, विश्व कप से बाहर होने का खतरा

मॉस्को : रूस के निझनी नोवगोरोड स्टेडियम में गुरुवार की देर रात रोमांचक मैच में क्रोएशिया ने विश्व की सर्वश्रेष्ठ टीमों में शामिल अर्जेंटीना को 3-0 से रौंदकर राउंड ऑफ 16 में जगह पक्की कर ली. वहीं, अर्जेंटीना के लिए आगे बढ़ने की राह मुश्किल हो गयी है. क्रोएशिया ने अपने संयुक्त प्रदर्शन के दम पर फीफा वर्ल्ड कप के खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही अर्जेंटीना को ग्रुप-डी के मुकाबले में करारी शिकस्त दी. हालांकि, पहले हाफ अर्जेंटीना के पास ज्यादा पजेशन रहा, लेकिन वह अपने आक्रमण को परिणाम तक नहीं पहुंचा सका. उनका डिफेंस भी लचर नजर आया. अर्जेंटीना टीम काफी हद तक लियोनेल मेसी पर निर्भर रही और वह एक बार फिर फेल साबित हुए.

इस दमदार जीत के साथ क्रोएशिया की टीम 1998 के बाद पहली बार फीफा वर्ल्ड कप के प्री-क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने में कामयाब हुई है. ग्रुप-डी में दो मैच के बाद अर्जेंटीना एक अंक के साथ तीसरे पायदान पर है. अर्जेंटीना ने तेज शुरुआत की कोशिश की, लेकिन क्रोएशिया की डिफेंस को भेदने में नाकाम रही. वहीं, क्रोएशिया की डिफेंस ने अपना संयम नहीं खोया और काउंटर अटैक करके गोल दागने की कोशिशों में जुटी रही.

मिडफील्डर इवान पेरीसिक ने चौथे मिनट में अर्जेंटीना के डिफेंस को भेदते हुए निशाना दागा, जिसे गोलकीपर विल्फ्रेडो काबालेरो ने रोककर अपनी टीम को शुरुआती झटके से बचा लिया. अर्जेंटीना के दिग्गज फॉरवर्ड लियोनेल मेसी को 12वें मिनट में बॉक्स के अंदर पास मिला, लेकिन मेसी गेंद को अपने कब्ज़े में नहीं ले पाये और गेंद गोलकीपर डेनिजेल सुबासिक के हाथों में चली गयी.
हाफ टाइम तक दोनों टीमों के बीच कड़ी टक्कर चली. 30वें मिनट में अर्जेंटीना के मिडफील्डर एंजो पेरेज को बॉक्स के अंदर से गोल करने का शानदार मौका मिला, लेकिन वह फेल हो गये. उधर, 33वें मिनट में क्रोएशिया के सिमे वसाल्जको ने दायें फ्लैंक से बॉक्स के भीतर बेहतरीन क्रॉस दिया. मारियो मांजुकिक महज छह गज की दूरी पर थे, लेकिन हेडर नहीं लगा पाये.

इसके बाद तो अर्जेंटीना का वो हश्र हुआ, जिसे वह बहुत जल्द भूल जाना चाहेगी. 53वें मिनट में गोलकीपर काबालेरो ने बॉक्स में अपने खिलाड़ी को पास देने का प्रयास किया और गलती से गेंद को हवा में उछाल बैठे, जिस पर रेबिक ने शानदार गोल दागते हुए क्रोएशिया को 1-0 की बढ़त दिला दी.

एक गोल से पिछड़ने के बाद अर्जेंटीना ने गोल करने के प्रयास तेज कर दिये. 64वें मिनट में मिडफील्डर मैक्सीमिलियानो मेजा और मेसी को गोल लाइन की गेंद मिली, लेकिन वह क्रोएशिया के गोलकीपर को चकमा देने में नाकाम रहे. गोल करने के आसान मौकों को जाया होता देख कोच जॉर्ज सांपाओली मिडफील्डर पाउलो डेबाला को मैदान में उतारा, लेकिन उसका भी कोई खास फायदा अर्जेंटीना को नहीं मिला.

दूसरी तरफ, स्पेनिश क्लब रियल मैड्रिड से खेलने वाले मिडफील्डर लुका मोड्रिक ने 80वें मिनट में अर्जेंटीना के बॉक्स के बाहर मिली जगह का लाभ उठाते हुए 25 गज की दूरी से शानदार गोल दागकर क्रोएशिया की बढ़त को दोगुना कर दिया. मिडफील्डर इवान रेकिटिक ने इंजुरी टाइम (91वें मिनट) में गोल करके क्रोएशिया की जीत सुनिश्चित कर दी.

अर्जेंटीना के लिए अब नॉकआउट में पहुंचना मुश्किल हो गया है. शुक्रवार को नाइजीरिया आइसलैंड को हरा दे या फिर बराबरी पर रोक दे और फिर मंगलवार को अर्जेंटीना नाइजीरिया को हरा दे, तभी उसके लिए कोई राह बन सकती है. हालांकि, नाइजीरिया के खिलाफ अर्जेंटीना अगर बहुत बड़ी जीत भी दर्ज करता है, तो भी यह तय नहीं है कि वह अंतिम-16 में चला ही जायेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *