बुधवार को आएंगे दिल्ली नगर निगम चुनाव के नतीजे, मतगणना के लिए बनाए गए हैं 42 केंद्र

दिल्ली में 250 वार्डों में हुए नगर निगम चुनाव के नतीजे बुधवार को आएंगे। मतगणना की तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई हैं। जानकारी के मुताबिक के एमसीडी चुनाव के मतगणना के लिए 42 केंद्र बनाए गए हैं। इसके साथ ही दिल्ली में कड़ी सुरक्षा के बंदोबस्त भी किए गए हैं। दिल्ली में 4 दिसंबर को चुनाव कराए गए थे। दिल्ली में नगर निगम के 250 सीट है और इस बार 1349 उम्मीदवार चुनावी मैदान में थे। मुख्य मुकाबला भाजपा और आम आदमी पार्टी के बीच देखा गया। भाजपा पिछले 15 सालों से सत्ता में है। वहीं, आम आदमी पार्टी का दावा है कि इस बार एमसीडी में उसके ही पार्षद ज्यादा जीत के आएंगे। हालांकि, कांग्रेस ने भी जबरदस्त टक्कर दी है। ज्यादातर एग्जिट पोल में आम आदमी पार्टी को बढ़त दिखाया गया है। दूसरी ओर भाजपा दावा कर रही है कि नतीजे उस के पक्ष में आएंगे।

मतगणना केंद्र शास्त्री पार्क, यमुना विहार, मयूर विहार, नंद नगरी, द्वारका, ओखला, मंगोलपुरी, पीतमपुरा, अलीपुर और मॉडल टाउन सहित क्षेत्रों में स्थित हैं। रविवार को हुए चुनाव में शाम साढ़े पांच बजे तक करीब 50.47 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था। दिल्ली का मुख्यमंत्री और आप संयोजक अरविंद केजरीवला ने कहा कि कल मैं ExitPolls देख रहा था। जनता ने आप पर भरोसा किया है। मैं दिल्ली वालों को बधाई देता हूं और उम्मीद करता हूं नतीजे भी ऐसे ही आएंगे। अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली ‘आप’ और भाजपा के बीच मुकाबले में कूड़े के पहाड़ (लैंडफिल) सबसे बड़े मुद्दों में से एक के रूप में उभरे। ‘आप’ और उसके नेता अरविंद केजरीवाल के लिए चुनाव महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि वे देश में 2024 के आम चुनावों से पहले पार्टी का विस्तार चाहते हैं। भाजपा ने एमसीडी चुनाव के प्रचार के लिए अपने शीर्ष नेताओं को मैदान में उतारा था। इनमें पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा और राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी तथा पीयूष गोयल जैसे 19 केंद्रीय मंत्री और छह राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल हैं। भाजपा को 2020 के दिल्ली विधानसभा चुनावों में ‘आप’ के हाथों हार का सामना करना पड़ा था और उसने 70 में से सिर्फ आठ सीटें जीती थीं।

दिल्ली में नगर निगम चुनाव को लेकर आम आदमी पार्टी और भाजपा में जबरदस्त मुकाबला देखने को मिला। हालांकि, एग्जिट पोल में आम आदमी पार्टी को बढ़त साफ तौर पर दिखाई दे रही है। इंडिया टुडे एक्सिस माय इंडिया के एग्जिट पोल को देखे तो 250 सीटों में से आम आदमी पार्टी के खाते में 149 से लेकर 171 सीटें जा सकती हैं। भाजपा को 69 से 91 सीटें मिल सकती हैं। वहीं कांग्रेस को 3 से 7 सीटें और अन्य के खाते में 5 से 9 सीटें जा सकती हैं। ईटीजी चैनल के मुताबिक आम आदमी पार्टी को दिल्ली में 146 से 156 सीटें, बीजेपी को 84 से 94, कांग्रेस को 6 से 10 सीटें जबकि अन्य के खाते में 0 से 4 सीटें जा सकती हैं। जन की बात के आंकड़ों को देखें तो आम आदमी पार्टी के खाते में 159 से 175, बीजेपी के खाते में 70 से 92 और कांग्रेस के खाते में 4 से 7 सीटें जा सकती हैं। TV9 के आंकड़ों को देखें तो अन्य के खाते में 3, आम आदमी पार्टी के खाते में 145, बीजेपी के खाते में 94 और कांग्रेस के खाते में 8 सीटें जाएंगी।