यूक्रेन के जापोरिज्जिया शहर पर रूस के ताजा हमले में कम से कम 23 लोगों की मौत

कीव। यूक्रेन के जापोरिज्जिया शहर पर रूस के ताजा हमले में कम से कम 23 लोगों की मौत हो गई और 28 घायल हुए हैं। जापोरिज्जिया के क्षेत्रीय गवर्नर ओलेक्सांद्र स्तारुख ने शुक्रवार को एक ऑनलाइन बयान जारी कर यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि रूस की सेना ने रूस के कब्जे वाले क्षेत्र की ओर मानवीय सहायता लेकर जा रहे एक काफिले पर हमला किया। गवर्नर ने सड़क पर पड़े जले हुए वाहनों और शवों की तस्वीरें पोस्ट की।

रूस ने अभी तक इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। यह हमला ऐसे समय हुआ है जब मास्को यूक्रेन के कुछ हिस्सों में जनमत संग्रह करवा रहा है और अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने इसकी निंदा की है। स्तारुख ने कहा कि काफिले में शामिल लोग रूस के कब्जे वाले क्षेत्र में जाकर अपने रिश्तेदारों को सुरक्षित लाना चाहते थे। उन्होंने कहा कि हमले के स्थल पर बचावकर्मी पहुंच चुके हैं।
Amazon दिवाली सेल- बेस्टसेलिंग लैपटॉप पर 40% तक की छूट।

इस बीच तुर्की के राष्ट्रपति के एक बयान के अनुसार, तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन ने अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन को यूक्रेनी संकट को हल करने के लिए बातचीत में शामिल होने के लिए कहा है। एर्दोगन ने गुरुवार को एक फोन कॉल में पुतिन को बताया, ‘अधिक सकारात्मक विकास का मार्ग प्रशस्त करने के लिए तनाव को कम करने के कदमों की आवश्यकता है और रूस से इस प्रक्रिया को सुविधाजनक बनाने के लिए विशेष रूप से यूक्रेन में कुछ क्षेत्रों के रूस में प्रवेश के मुद्दे पर कदम उठाने की उम्मीद है।’

समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, पुतिन से ‘बातचीत को एक और मौका देने’ के लिए कहते हुए, एर्दोगन ने कहा कि तुर्की इस प्रक्रिया में एक सुविधाजनक भूमिका निभाने के लिए तैयार है। तुर्की के राष्ट्रपति ने रूस-यूक्रेन कैदी विनिमय के सफल समापन और इस्तांबुल में हस्ताक्षरित समझौते के कामकाज पर भी संतोष व्यक्त किया, जिसने विश्व बाजारों में यूक्रेनी अनाज के निर्यात को फिर से शुरू किया। एर्दोगन ने कहा कि नवंबर में समाप्त होने वाले अनाज निर्यात तंत्र का विस्तार एक सामान्य हित है।