चिदंबरम का सवाल, आर्यन को जिस सदमे से गुजरना पड़ा कौन लेगा उसकी जिम्मेदारी

नयी दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम ने मादक पदार्थ मामले में अभिनेता शाहरुख़ खान के पुत्र आर्यन खान को क्लीन चिट मिलने के बाद शुक्रवार को कहा कि इस नौजवान को जिस सदमे से गुजरना पड़ा, उसकी जिम्मेदारी कौन लेगा। उन्होंने यह दावा भी किया कि जांच के बाद गिरफ्तारी होनी चाहिए, लेकिन आजकल बहुत सारे मामलों में इसका उल्टा हो रहा है।

चिदंबरम ने ट्वीट किया, “यह अब स्पष्ट हो चुका है कि आर्यन खान के खिलाफ कोई सबूत नहीं था। इस नौजवान को जिस सदमे से गुजरना पड़ा, उसकी जिम्मेदारी कौन लेगा?” उन्होंने कहा, “जांच के बाद गिरफ्तारी होनी चाहिए. दुखद है कि कई मामलों में पहले गिरफ्तारी होती है फिर जांच होती है। यह कानून द्वारा स्थापित प्रक्रिया के विपरीत है।” कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आर्यन के मामले का हवाला देते हुए सरकार पर निशाना साधा और दावा किया, “सरकारी एजेंसियां खबरें गढ़ रही हैं, बिना सबूत के लोगों की प्रतिष्ठा धूमिल की जा रही है, बिना सुनवाई के लोगों को दोषी ठहराया जा रहा है। यही नया भारत है।”

स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) ने बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को क्रूज जहाज पर मादक पदार्थ मिलने के मामले में शुक्रवार को क्लीन चिट दे दी। इस मामले में पिछले साल उन्हें गिरफ्तार किया गया था।