मुझसे कहते थे कि मैं एक एक्टर की तरह नहीं दिखता, मुझे कोई और काम करना चाहिए : नवाजुद्दीन

मुंबई । नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बॉलीवुड में एक लंबा सफर तय किया है तब जाकर उन्हें यह सफलता मिल पाई है। संघर्ष के दिनों में नवाजुद्दीन को काफी उतार-चढ़ाव देखने पड़े। मेकर्स टीवी शोज में भी उन्हें काम नहीं देना चाहते थे। मेकर्स का कहना होता था कि एक्टर्स उनकी तरह नहीं दिखते। उनके सांवले रंग की वजह से उन्हें ज्यादा लाइट्स लगानी पड़ेगी। नवाजुद्दीन ने पहले भी कई बार इंडस्ट्री में होने वाले रंगभेद पर अपनी बात रखी है। उनका मानना है कि ओटीटी की वजह से चीजें बहुत बदली हैं और आज के वक्त में हर एक्टर्स के पास काम है।

नवाजुद्दीन की फिल्म ‘हीरोपंती 2’ रिलीज होने वाली है। फिल्म में टाइगर श्रॉफ और तारा सुतारिया हैं। नवाजुद्दीन इस वक्त फिल्म के प्रमोशन में व्यस्त हैं। नवाजुद्दीन ने कहा, ‘मैं जहां भी जाता था वे मुझसे कहते थे कि मैं एक एक्टर की तरह नहीं दिखता इसलिए मुझे कोई और काम करना चाहिए। “एक्टर्स ऐसे नहीं होते, तुम एक्टर नहीं हो, अपना टाइम क्यों बर्बाद कर रहे हो?” मैं एक ऑफिस से दूसरे ऑफिस जाता था और यही सुनने को मिलता था। आखिरकार, मुझे 9-10 साल लग गए। ऐसे निर्देशक आए जो रियलिस्टिक फिल्में बना रहे थे। हम उनके साथ उभरे।‘

वह आगे कहते हैं, ‘वे फिल्में चली नहीं लेकिन फिल्म फेस्टिवल में उन्हें तारीफें मिलीं। तब कमर्शियल फिल्ममेकर ने हमें नोटिस किया और फिल्म में कास्ट करने के बारे में सोचा। उन्होंने हमारे साथ फिल्में बनाईं। इस तरह मुझे स्वीकार किया गया।‘

नवाजुद्दीन ने आगे टीवी शो के लिए रिजेक्ट करने का एक किस्सा बताया। उन्होंने कहा, “आप लोग एक्टर्स की तरह दखते नहीं हो।“ इससे ज्यादा सुनने में कठोर क्या हो सकता है। जब मैं टीवी शो के लिए काम मांगने जाता था तो मुझसे कहते थे, “हम आपको कास्ट नहीं कर सकते क्योंकि इससे ज्यादा वक्त लगेगा। हमें एक्स्ट्रा लाइट्स लगानी पड़ेगी जबकि हमें हर दिन एक एपिसोड भेजना होगा। अगर हम आपको कास्ट करते हैं तो 1.5 दिन लगेंगे, हमें नुकसान होगा। अच्छा है कि आप किसी और को ढूंढ लें।“ फिर मैंने फिल्मों में काम खोजने का फैसला लिया। मुझे वहां मुश्किल से कोई सीन मिल रहा था। शायद 40 सेकेंड का सीन या 1 मिनट या 2 मिनट का सीन। 5-6 साल तक ऐसे ही चलता रहा। फिर मुझे 2 सीन मिलने लगे। अगले 5 साल तक फिर ऐसे चला।‘

बता दें कि कई सालों की मेहनत के बाद ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ से नवाजुद्दीन की किस्मत बदली। आज वह बॉलीवुड के व्यस्त एक्टर्स में से हैं।