भारत में नहीं तो क्या पाकिस्तान, बांग्लादेश में निकलेगा रामनवमी का जुलूस : गिरिराज

देश में रामनवमी और हनुमान जयंती के दिन निकाली गई शोभायात्रा के बाद कई जगह हिंसा की खबर है। कई लोग शोभायात्रा को लेकर लगातार सवाल भी उठा रहे हैं। इन सबके बीच केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने साफ तौर पर कहा है कि भारत में रामनवमी जुलूस या हनुमान जयंती नहीं मनाई जाएगी तो क्या बांग्लादेश, अफगानिस्तान या पाकिस्तान में मनाई जाएगी? इसके साथ ही उन्होंने सवाल किया कि आखिर देश में नहीं तो रामनवमी का जुलूस कहां निकाला जाएगा? पाकिस्तान में, बांग्लादेश में या फिर अफगानिस्तान में? शोभा यात्रा के दौरान कई जगह पर हुई हिंसा की खबरों को लेकर गिरिराज सिंह ने साफ तौर पर कहा कि यह हमारे देश की गंगा जमुनी तहजीब के दावों के विपरीत है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा अब सब्र टूट रहा है।

भाजपा के तेजतर्रार नेता ने कहा कि आजादी के बाद नई मस्जिदों के निर्माण और मुस्लिमों की आबादी में कई गुना बढ़ोतरी के बावजूद भी हमने कभी आपत्ति नहीं जताई। जबकि पाकिस्तान में मंदिरों को तोड़ा गया है। वहां हिंदू लगभग विलुप्त हो गए हैं। उन्होंने कहा कि यही कारण है कि अब धैर्य समाप्त हो रहा है। गिरिराज सिंह ने कर्नाटक के हुगली और दिल्ली के जहांगीरपुरी में हुई हिंसा की घटनाओं पर नाराजगी व्यक्त की। इसके साथ ही उन्होंने असदुद्दीन ओवैसी के बयान पर भी पलटवार किया। उन्होंने यह भी कहा कि गोरखपुर में हुई घटना से वे स्तब्ध हैं। भाजपा सांसद ने कहा कि एक आईआईटी स्नातक ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाले धार्मिक संस्थान गोरखधाम पीठ पर हमला किया था।

गिरिराज सिंह ने राजस्थान के करौली शहर में हालिया हिंसा व आगजनी की निंदा करते हुए कहा कि इस तरह की घटनाओं की ‘स्क्रिप्ट’ (पटकथा) कहीं और लिखी जा रही है। उन्होंने कहा कि रामनवमी पर जो घटनाएं घटीं वे दुखद हैं और सामाजिक समरसता को तोड़ने वाली हैं। इसकी ‘स्क्रिप्ट’ कहीं और लिखी जा रही है, चाहे पीएफआई (पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया) लिखे, चाहे सिमी (स्टूडेंट इस्लामिक मूवमेंट ऑफ़ इंडिया) लिखे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ …करौली उसका सबसे बड़ा उदाहरण है, मध्य प्रदेश उदाहरण है और किसी कारण से झगड़ा हो गया, यह संयोग होता है और प्रयोग यह होता है कि करौली में आप छतों पर पूरी तैयारी रखे हो।’’ उन्होंने कहा, ‘‘प्रयोग तब होता है जब मध्य प्रदेश में (कुछ लोग) तलवार लेकर निकलते हैं और एसपी व लोगों पर प्रहार करते हैं और गोली चला देते हैं, एसपी घायल हो जाता है। यह प्रयोग है।’’