प्रधानमंत्री मोदी के बधाई संदेश पर आया शहबाज शरीफ का जवाब, फिर अलापा कश्मीर राग

नवाज शरीफ के छोटे भाई शहबाज शरीफ पाकिस्तान के 23वें प्रधानमंत्री बन चुके हैं। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शहबाज शरीफ को ट्विटर के जरिए बधाई भी दी थी। अब शहबाज शरीफ ने मोदी के बधाई संदेश का जवाब दिया है। हालांकि अपने जवाब में शहबाज शरीफ ने कश्मीर का भी राग अलापा है। मोदी के संदेश के जवाब में शाहबाज शरीफ ने ट्विटर पर लिखा कि बधाई के लिए धन्यवाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। पाकिस्तान भारत के साथ शांतिपूर्ण और सहयोगी संबंध चाहता है। जम्मू-कश्मीर सहित बकाया विवादों का शांतिपूर्ण समाधान अपरिहार्य है। आतंकवाद से लड़ने में पाकिस्तान की कुर्बानी जगजाहिर है।

इसके साथ ही शहबाज शरीफ ने लिखा कि आइए शांति सुरक्षित करें और अपने लोगों के सामाजिक-आर्थिक विकास पर ध्यान दें। आपको बता दें कि अपने बधाई संदेश में प्रधानमंत्री मोदी ने साफ कर दिया था कि भारत आतंकवाद मुक्त क्षेत्र में शांति और स्थिरता चाहता है। मोदी ने लिखा कि मुहम्मद शहबाज शरीफ को पाकिस्तान के प्रधान मंत्री के रूप में चुने जाने पर बधाई। भारत आतंक मुक्त क्षेत्र में शांति और स्थिरता चाहता है, ताकि हम अपनी विकास की चुनौतियों पर ध्यान केंद्रित कर सकें और अपने लोगों की भलाई और समृद्धि सुनिश्चित कर सकें। वहीं, आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी शहबाज शरीफ को बधाई दी थी। अपने बधाई संदेश में राजनाथ ने कहा था कि मैं उनको कहना चाहूंगा कि वह आतंकवाद पर नकेल कसें। उन्हें शुभकामनाएं।

आपको बता दें कि दोनों ही देशों के बीच आतंकवाद के मुद्दे को लेकर बातचीत बंद है। भारत ने साफ तौर पर कह दिया है कि जब तक पाकिस्तान अपने क्षेत्र में आतंकियों को पनाह देना बंद नहीं करता तब तक उससे बातचीत नहीं होगी। दूसरी और पाकिस्तान की ओर से लगातार कश्मीर राग अलापा जाता है। शहबाज शरीफ ने भी कश्मीर को लेकर अपनी बात रखी है। शहबाज़ शरीफ ने पहले ही भाषण में कश्मीर से अनुच्छेद 370 को निरस्त करने का मुद्दा उठाते हुए आरोप लगाया कि घाटी में लोगों का ‘खून बह’ रहा है और पाकिस्तान उन्हें ‘कूटनीतिक और नैतिक समर्थन’ देने के साथ-साथ हर अंतरराष्ट्रीय मंच पर यह मुद्दा उठाएगा।