मजूमदार बोले, अगर प. बंगाल अलग देश होता तो श्रीलंका से भी बदतर होते हालात

कोलकाता। भाजपा ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर मंगलवार को निशाना साधते हुए कहा कि अगर पश्चिम बंगाल अलग देश होता तो उसकी हालत श्रीलंका से ज्यादा बदतर होती। दरअसल, श्रीलंका आर्थिक संकट का सामना कर रहा है और वहां की सरकार स्थानीय नागरिकों के गुस्से का सामना कर रही है। श्रीलंका ईंधन के साथ-साथ खाद्य पदार्थों की कमी का भी सामना कर रहा है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, पश्चिम बंगाल की भाजपा इकाई के अध्यक्ष सुकांता मजूमदार ने कहा कि ममता बनर्जी अपने राज्य का हिसाब ठीक से रखें। श्रीलंका का तो बंटाधार हो गया। श्रीलंका का कुल लोन 6 लाख करोड़ था और पश्चिम बंगाल का 5.62 लाख करोड़ है, हम सिर्फ करीब 38,000 करोड़ से पीछे हैं। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल अगर अलग देश होता तो उसकी हालत श्रीलंका से भी ज्यादा बदतर होती। पश्चिम बंगाल की आर्थिक स्थिति बहुत खराब है, जिसकी चिंता ममता बनर्जी को करनी चाहिए।

भारत दुनिया की उभरती हुई अर्थव्यवस्था है, ऐसे में भारत के हालात भी श्रीलंका जैसे हो सकते हैं। इसको लेकर बीते दिनों एक रिपोर्ट सामने आई थी, जिसमें मुफ्त में दी जाने वाली योजनाओं पर लगाम लगाने की राय दी गई थी। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के ऊपर सबसे ज्यादा 6.53 लाख करोड़ रुपए का कर्जा है, जबकि पश्चिम बंगाल के ऊपर 5.62 लाख करोड़ रुपए का और गुजरात के ऊपर 5.02 लाख करोड़ का कर्जा है।