PM मोदी को व्लादिमीर पुतिन का संदेश देना चाहते हैं रूसी विदेश मंत्री

नयी दिल्ली। यूक्रेन में जारी जंग के बीच में रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव भारत दौरे पर हैं। इस दौरान उन्होंने विदेश मंत्री एस जयशंकर से मुलाकात की। जिसके बाद उन्होंने मीडियाकर्मियों के साथ बातचीत में कहा कि रक्षा क्षेत्र में भारत के साथ हम सहयोग जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा कि हम भारत को किसी भी सामान की आपूर्ति करने के लिए तैयार रहेंगे जो वो हमसे खरीदना चाहते हैं। रूस और भारत के बीच बहुत अच्छे संबंध हैं। उन्होंने कहा कि आपने इसे (रूस-यूक्रेन संकट) युद्ध कहा जो सच नहीं है। यह एक स्पेशल ऑपरेशन है, सैन्य बुनियादी ढांचे को निशाना बनाया जा रहा है। इसका उद्देश्य कीव शासन को किसी भी ऐसे निर्माण से वंचित करना है, जो रूस के लिए खतरा है।

इसी बीच उन्होंने कहा कि डॉलर से राष्ट्रीय मुद्रा में जाने के प्रयास तेज किए जाएंगे। विदेश मंत्री ने क्या द्विपक्षीय व्यापार के लिए रूबल-रुपये प्रणाली पर काम किया जा रहा है के सवाल पर कहा कि हमें बाधाओं को दूर करने के तरीके खोजने होंगे। आपको बता दें कि भारत अपने सबसे बेहतरीन मित्र रूस से तेल और हथियार की खरीदारी करते हैं। जिसको लेकर रूसी विदेश मंत्री ने स्पष्ट कर दिया है कि भारत को हर सामान की आपूर्ति करने के लिए हम तैयार हैं।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, एस जयशंकर के साथ वार्ता में रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने मौजूदा परिस्थिति में भारत के रुख की सराहना की। इसी बीच उन्होंने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को व्यक्तिगत तौर पर व्लादिमीर पुतिन का संदेश देना चाहते हैं।