बीसीसीआई ऋद्धिमान से उनके ट्वीट के बारे में पूछेगा कि क्या उन्हें धमकाया गया था: धूमल

मुंबई| भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा से उनके ट्वीट के संदर्भ के बारे में पूछेगा जिसमें आरोप लगाया गया था कि एक पत्रकार ने उन्हें साक्षात्कार देने के लिए सहमत नहीं होने पर धमकी दी थी।

भारतीय टेस्ट टीम से हाल ही में बाहर किये गये साहा ने ट्विटर पर आरोप लगाया था कि एक ‘सम्मानित’ पत्रकार ने उन्हें साक्षात्कार देने से इनकार करने के बाद आक्रामक रूख अपनाया था।

इस ट्वीट के बाद, पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री, वीरेंद्र सहवाग और हरभजन सिंह जैसे पूर्व सितारों ने साहा का समर्थन करते हुए उनसे पत्रकार का नाम उजागर करने को कहा। बीसीसीई कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने सोमवार को पीटीआई-से कहा, ‘‘ जी हां, हम ऋद्धिमान से उनके ट्वीट के बारे में पूछेंगे और जानेंगे की असल क्या घटना हुई है। हमें यह जानने की जरूरत है कि क्या उन्हें धमकी दी गई थी और उनके ट्वीट की पृष्ठभूमि तथा संदर्भ क्या था। मैं और कुछ नहीं कह सकता। हमारे सचिव (जय शाह) ऋद्धिमान से जरूर बात करेंगे।’’

साहा को हाल में भारतीय टीम की तरफ से खेलने का मौका नहीं मिला। उन्होंने मीडिया से कहा कि पिछले महीने दक्षिण अफ्रीका श्रृंखला के बाद द्रविड़ ने उन्हें आपसी बातचीत में संन्यास लेने पर विचार करने की सलाह दी थी।

द्रविड़ ने कहा कि साहा से बात करने के पीछे उनका इरादा यह सुनिश्चित करना था कि उन्हें यह स्पष्ट तौर पर पता हो कि टीम में उनकी स्थिति क्या है और उन्हें इसका पछतावा नहीं है।