रायबरेली में बोले अमित शाह- यूपी में कोई बाहुबली नहीं है, अगर है तो सिर्फ बजरंगबली हैं

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। आज केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह गांधी परिवार के गढ़ रायबरेली में चुनाव प्रचार करने पहुंचे थे। रायबरेली में अमित शाह ने कांग्रेस के साथ साथ समाजवादी पार्टी और बसपा पर जबरदस्त तरीके से निशाना साधा। इसके साथ ही अमित शाह ने दावा किया कि पूरे उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ ने एक भी बाहुबली को नहीं रखा है। यूपी में कोई बाहुबली नहीं है अगर है तो सिर्फ बजरंगबली हैं। न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक अमित शाह ने कहा कि तीसरे और चौथे चरण में रायबरेली की जनता को उस नींव पर एक भव्य इमारत बनाने का काम शुरू करना है। पूरे उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ ने एक भी बाहुबली नहीं रखा है। यूपी में कोई बाहुबली नहीं है अगर है तो सिर्फ़ बजरंगबली है।

पूर्व भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पहले और दूसरे चरण में हुए मतदान में सपा और बसपा का सूपड़ा साफ़ हो गया है। पहले और दूसरे चरण में भाजपा की 300 सीटों की सरकार बनाने की नींव डालने का काम उत्तर प्रदेश की जनता ने किया है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में कई साल तक बुआ-भतीजा की सरकार चली। इन्होंने तुष्टिकरण, जातिवाद, परिवारवाद के अलावा कुछ नही किया। रायबरेली तो गांधी परिवार की सीट रही है। भाजपा शासन आने से पहले क्या रायबरेली में बिजली आती थी क्या? अब भाजपा सरकार में 22-24 घंटे तक बिजली आती है। शाह ने कहा कि इतने वर्षों तक सपा-बसपा-कांग्रेस ने गरीबों के नाम पर वोट लिए। लेकिन नरेन्द्र मोदी जी के अलावा कोई प्रधानमंत्री ऐसे नहीं हुए जिन्होंने गरीबों का भला किया हो। भाजपा सरकार ने 1.67 करोड़ माताओं-बहनों को उज्ज्वला योजना के तहत गैस कनेक्शन दिया है।
अमित शाह ने कहा कि अखिलेश यादव मुझे पूछ रहे थे कुछ दिन पहले कि कानून व्यवस्था में क्या हुआ है। जिनके चश्में पीले होते हैं, उनको पीला-पीला दिखाई पड़ता है। मैं आपको बताता हूं कि यूपी में भाजपा सरकार आने के बाद डकैती में 72%, लूट में 62%, हत्या में 31%, अपहरण में 29%, बलात्कार में 50% की कमी हुई है। इससे पहले अमित शाह ने बुंदेलखंड में चुनावी सभा को संबोधित किया। अमित शाह ने कहा कि यूपी में 15 साल शासन करने वाली सपा-बसपा से मैं पूछना चाहता हूं कि इनकी सरकारों ने बुंदेलखंड के जल संकट के लिए क्या किया इसका हिसाब लेकर आओ। नरेन्द्र मोदी की सरकार ने बुंदेलखंड को जल संकट से बचाने के लिए ढेर सारी योजनाएं लाए थे।