पाकिस्तान में आतंकी हमलों में होगी बढ़ोतरी, गृहमंत्री शेख रशीद ने खुद बताया

नई दिल्ली । पाकिस्तान सरकार के केंद्रीय गृहमंत्री शेख रशीद ने चेतावनी दी है आने वाले वक्त में पाकिस्तान में आंतकी गतिविधियों में बढ़ोतरी हो सकती है। उन्होंने ब्रिटिश मीडिया को दिए गए एक इंटरव्यू में कहा है कि अगले दो महीनों में आंतकवाद के बढ़ने की आशंका है। यह रिपोर्ट जियो न्यूज ने दी है। उन्होंने बताया है कि पाकिस्तान के पास आतंकियों से लड़ने और जानकारी जुटाने के बेहतर सिस्टम है और आतंकवाद कि इस लहर से उसी के मुताबिक निपटा जाएगा।

शेख रशीद ने कहा है कि अफगानिस्तान तालिबान, तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (TTP) को किसी भी चीज के लिए बाध्य करने में असमर्थ है। उन्होंने माना कि अफगान तालिबान TTP के साथ बातचीत में मध्यस्थ रहे हैं और सकारात्मक भूमिका निभा रहे हैं। उन्होंने बताया कि अफगान तालिबान एक पुल की भूमिका निभा रहा है और TTP को आतंकी गतिविधियों में शामिल होने से रोकने की कोशिश कर रहा है।

TTP के साथ शांति वार्ता के वकालत करने वाले रशीद ने कहा है कि TTP ने शांति वार्ता के सभी दरवाजे बंद कर दिए हैं। संघर्ष विराम उल्लंघन करके TTP ने बातचीत के दरवाजे बंद कर दिए हैं। TTP ने खुद ही समझौते को खत्म कर दिया है। सरकार ने दो बार TTP से बात करनी चाहिए लेकिन उनके शर्त मंजूर करने लायक नहीं थे।

उन्होंने बताया कि TTP उन कैदियों की रिहाई की मांग कर रहा था जो पाकिस्तान में अपनी सजा काट रहे हैं लेकिन ऐसे खतरनाक कैदियों को TTP को सौंपना असंभव है। हमने TTP को हथियार डालने और राष्ट्रीय मुख्यधारा में शामिल होने की पेशकश की लेकिन उन्होंने संघर्ष विराम का उल्लंघन किया।

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान और पाकिस्तान की सेना के बीच जारी मतभेद को लेकर शेख रशीद ने कहा है कि दोनों साथ मिलकर काम कर रहे हैं। इमरान खान और सैन्य नेतृत्व के बीच कोई मतभेद नहीं है।