योगी ने सपा के झंडे को बताया अराजकता का प्रतीक, बोले- 2017 से पहले किसान बदहाल था

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को रायबरेली में विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने सदैव देश के साथ कुठाराघात किया है। देश के अंदर आतंकवाद की जड़ और देश के अंदर भाषाई दंगा कराने की अगर कोई जड़ है तो वह कांग्रेस ही है। उन्होंने कहा कि रायबरेली की जिस धरती पर मां गंगा की पूजा होती है। ऋषि-मुनियों ने अपने तप और साधना से इस धरती को पवित्र किया। वहीं दूसरी तरफ यहां का जनसमर्थन लेकर कांग्रेस जब सत्ता में आती थी तो ये कहते थे कि राम और कृष्ण हुए ही नहीं।

समाजवादी पर भी बरसे योगी आदित्यनाथ पूर्ववर्ती सरकारों पर निशाना साधते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि समाजवादी पार्टी हो या कांग्रेस या बहुजन समाज पार्टी, भ्रष्टाचार इनके जीन्स का हिस्सा बन गया है। भ्रष्टाचार के बगैर इनका काम ही नहीं चलता, विकास की इनकी कोई सोच ही नहीं है। उन्होंने कहा कि 2017 से पहले जो दंगाई प्रदेश में पर्व और त्योहारों से पहले दंगा करते थे, क्या उनमें दुस्साहस है कि अब वो दंगा करेंगे ? आज उत्तर प्रदेश में कोई दंगा नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि 2017 से पहले किसान बदहाल था, आत्महत्या करने के लिए मजबूर था, कर्ज तले दबा हुआ था। 2017 में सरकार बनने के बाद हमारी सरकार का पहला फैसला था 86 लाख किसानों का 36 हजार करोड़ रुपए का कर्ज माफी का कार्यक्रम था।

उन्होंने कहा कि 2017 के पहले नौकरी निकलती थी, समाजवादी पार्टी की सरकार में चाचा और भतीजे की गैंग वसूली पर निकल पड़ता था। महाभारत के सभी रिश्ते एक साथ वसूली पर निकल पड़ते थे। वसूली के साथ सभी भर्तियां विवादित होती थी। इसी बीच उन्होंने कहा कि अगर किसी व्यक्ति से समाजवादी पार्टी का मतलब पूछोगे तो वह यही बोलेगा कि जिस गाड़ी में सपा का झंड़ा, समझो बैठा है कोई पेशेवर गुंड़ा। गाड़ी पर लगा सपा का झंडा ही अराजकता का प्रतीक है। कानपुर मेट्रो उद्घाटन के दौरान भी सपा कार्यकर्ताओं ने दंगा भढ़काने का काम किया। लेकिन पुलिस ने कानपुर ने त्वरित कार्रवाई की। उन्होंने कहा कि हमने विकास भी किया, लोककल्याण कार्यक्रम भी किए, जनता को सुरक्षा भी दी और आपकी आस्था का सम्मान भी किया। इसी बीच उन्होंने अयोध्या राम मंदिर का मुद्दा उठाया और पूछा कि क्या कांग्रेस, सपा और बहन जी यह कार्यक्रम कर पाती ?