केएल राहुल ने दिए संकेत, पहले टेस्ट में 5 गेंदबाजों के साथ उतर सकती है टीम इंडिया

नई दिल्ली । भारतीय क्रिकेट टीम के नए उपकप्तान केएल राहुल ने शुक्रवार को संकेत दिया कि टीम दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट में पांच गेंदबाजों की रणनीति के साथ बरकरार रहेगी लेकिन स्वीकार किया कि पांचवें नंबर के लिये अजिंक्य रहाणे और श्रेयस अय्यर के बीच फैसला करना मुश्किल होगा। भारत रविवार से शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज से पहले यहां एक हफ्ते से प्रैक्टिस कर रहा है।

राहुल का मानना है कि दक्षिण अफ्रीका में लय तय करने के लिए अच्छी शुरूआत की जरूरत है जहां उन्होंने कभी भी टेस्ट सीरीज नहीं जीती है। यह पूछने पर कि क्या चार गेंदबाजों को खिलाना टीम के लिये वर्कलोड मैनेजमेंट की समस्या बन जाती है (जिससे लाइन अप में एक अतिरिक्त बल्लेबाज को शामिल किया जा सकता है) तो उन्होंने सकारात्मक जवाब दिया।

राहुल ने वर्चुअल मीडिया बातचीत के दौरान कहा, ‘प्रत्येक टीम टेस्ट मैच जीतने के लिए 20 विकेट झटकना चाहती है। हम भी इस रणनीति का इस्तेमाल कर चुके हैं और इससे हमने विदेश में जो भी मैच खेले हैं, प्रत्येक में मदद मिली है।’ इस सीनियर सलामी बल्लेबाज ने स्पष्ट किया कि चौथा तेज गेंदबाज खेलेगा। उन्होंने कहा, ‘पांच गेंदबाजों से वर्कलोड मैनेजमेंट में भी थोड़ी आसानी हो जाती है और जब आपके पास इस तरह का स्किल (भारतीय टीम में) तो मुझे लगता है कि हम इसका इस्तेमाल भी कर सकते हैं।’

शार्दुल ठाकुर अपने बेहतरीन बल्लेबाजी स्किल्स से सीनियर गेंदबाज इशांत शर्मा से आगे हो जाते हैं, इसका मतलब हो सकता है कि अय्यर, रहाणे और हनुमा विहारी में से एक को ही मौका मिल सकता है क्योंकि राहुल, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली और ऋषभ पंत का चयन तो होगा ही। राहुल ने कहा, ‘निश्चित रूप से इस पर फैसला करना मुश्किल है। अजिंक्य के बारे में बात करूं तो वह टेस्ट टीम का एक अहम सदस्य रहे हैं जिन्होंने अपने करियर में बहुत बहुत महत्वपूर्ण पारियां खेली हैं।’ (भाषा)