किसानों ने कहा, हमारा आंदोलन जारी रहेगा

नई दिल्ली। संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में आंदोलन को आगे जारी रखने का निर्णय लिया गया है और 27 नवम्बर की बैठक में आगे की रणनीति का फैसला लिया जाएगा।
भारतीय किसान यूनियन (राजेवाल) के अध्यक्ष बलवीर सिंह राजेवाल ने सिंघु बॉर्डर पर बैठक ख़्ात्म होने के बाद संवाददाता सम्मेलन में बताया कि तीन कृषि कानूनों को रद्द किए जाने की घोषणा पर चर्चा के बाद कुछ फैसले लिए गए, जिसमें 27 नवम्बर को मोच्रे की अगली बैठक में आंदोलन के अगले कदम के बारे में फ़ैसला किया जाएगा। इसके साथ ही पूर्व निर्धारित कार्यक्रम जारी रहेग़ा जिसमें 22 नवम्बर को लखनऊ में किसान महापंचायत और 29 नवम्बर को किसानों का संसद मार्च शामिल है। उन्होंने कहा कि जब तक संसद में इन कानूनों को औपचारिक रूप से रद्द नहीं किया जाता और एमएसपी की कानूनी गारंटी और विद्युत संशोधन विधेयक वापस लेने समेत अन्य मांगें नहीं मान ली जाती हैं, तब तक आंदोलन जारी रहेगा।