सीरीज पर कब्जा करने उतरेगा भारत

रांची। भारत शुक्रवार को यहां न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले दूसरे टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में जीत के साथ तीन मैचों की सीरीज अपने नाम करने के इरादे से उतरेगा लेकिन साथ ही उसे अपने मध्यक्रम के बल्लेबाजों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी। कोच राहुल द्रविड़ और कप्तान रोहित शर्मा ने अपनी जोड़ी की अच्छी शुरुआत करते हुए बुधवार को जयपुर में न्यूजीलैंड को पहले टी-20 में पांच विकेट से हराया।
भारत की जीत में शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों के शानदार प्रदर्शन और डेथ ओवरों में गेंदबाजों की नियंत्रित गेंदबाजी की अहम भूमिका रही। इस जीत के साथ भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ सभी प्रारूपों में लगातार सात हार के क्रम को भी तोड़ दिया। ढाई हफ्ते के जरूरी ब्रेक से पहले रोहित रांची में ही सीरीज जीतना चाहेंगे जिससे कि कोलकाता में अंतिम मैच में युवा खिलाड़ियों को मौका दिया जा सके। मौजूदा सीरीज से विराट कोहली को आराम दिया गया है और उनकी गैरमौजूदगी में सूर्यकुमार यादव ने तीसरे नंबर बल्लेबाजी के मौके का पूरा फायदा उठाते हुए 42 गेंद में 62 रन बनाए।
भारतीय टीम आसान जीत की ओर से बढ़ रही थी लेकिन श्रेयस अय्यर और ऋषभ पंत ने निराश किया जिससे मुकाबला थोड़ा करीबी हो गया। मेजबान टीम ने हालांकि बल्लेबाजी के दौरान कभी मैच से नियंतण्रनहीं खोया। लंबे समय के बाद भारत के लिए खेल रहे अय्यर लय में नहीं दिखे और उन्हें गेंद को बल्ले के बीच से खेलने में परेशानी हुई। बड़े शॉट नहीं लगने की स्थिति में वह एक या दो रन लेकर स्ट्राइक रोटेट करने के इच्छुक भी नहीं दिखे।
भारत के लिए मजबूत पक्ष सूर्यकुमार की बल्लेबाजी रही जिन्होंने मैदान में चारों तरफ शॉट खेलकर सवाई मानसिंह स्टेडियम में मौजूद दर्शकों का मनोरंजन किया। एक अन्य सकारात्मक पक्ष सीनियर गेंदबाजों भुवनेर कमार और रविचंद्रन अिन का प्रदर्शन रहा। कुछ अनुभवहीन गेंदबाजों ने जहां रन लुटाए वहां इन दोनों ने सटीक लाइन और लेंथ के साथ गेंदबाजी की। भारत ने डेथ ओवरों में अच्छी गेंदबाजी करते हुए 41 रन देकर तीन विकेट चटकाए जिससे न्यूजीलैंड की टीम 15 से 20 रन कम बना पाई।
निचला मध्यक्रम भी कप्तान रोहित के लिए चिंता का विषय है और ऐसे में देखना होगा कि क्या वह बल्लेबाजी क्रम में बदलाव कर सकते हैं। खिलाड़ियों को अधिक मौका देने की प्रतिबद्धता जता चुके रोहित के हालांकि सिर्फ एक मैच के बाद बल्लेबाजी क्रम में छेड़छाड़ की संभावना कम है। न्यूजीलैंड की पारी के अंतिम ओवर में मिशेल सेंटनर के शॉट पर भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज को हाथ में चोट लगी थी और उनका खेलना संदिग्ध है।
शाम के समय ओस की भूमिका अहम हो सकती है इसलिए टॉस एक बार फिर दोनों टीम के लिए महत्वपूर्ण होगा। टिम साउथी की टीम को अपने बल्लेबाजों से एक बार फिर अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी जिसमें पहले मैच में अर्धशतक जड़ने वाले मार्टिन गुप्टिल और मार्क चैपमैन भी शामिल हैं। साउथी को हालांकि गेंदबाजों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी। (भाषा)