कांग्रेस ने पंडित जी को दी श्रद्धांजलि, उन्हें आधुनिक भारत की नींव डालने वाले दूरदृष्टा बताया

नयी दिल्ली। देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की जयंती पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी सहित अनेक नेताओं ने रविवार को उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने यहां शांतिवन में नेहरू को पुष्पांजलि अर्पित की वहीं पार्टी के कई अन्य नेताओं ने सोशल मीडिया पर पूर्व प्रधानमंत्री को श्रद्धांजलि अर्पित की। नेहरू का जन्म 1889 में हुआ था और वह सबसे लंबे समय तक देश के प्रधानमंत्री पद पर रहे। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने नेहरू के कथन,‘‘ हमें जो चाहिए वह है शांति की पीढ़ी’’ को साझा किया और कहा भारत के पहले प्रधानमंत्री को याद कर रहा हूं जो सच्चाई, एकता और शांति को बेहद महत्व देते थे।

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी नेहरू को श्रद्धांजलि अर्पित की और देश के प्रथम प्रधानमंत्री को याद किया। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने नेहरू के योगदान की सराहना की और कहा कि नेहरू ने भारत को संप्रभु, समाजवादी, धर्मनिरपेक्ष और लोकतांत्रिक गणतंत्र बनाने में अहम भूमिका निभाई। पार्टी के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने नेहरू को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा,‘‘ हम उस लोकतंत्र की संतान हैं जिसे उन्होंने सहेजा,संवारा है। उन्होंने भविष्य के संस्थानों का निर्माण किया। वह विविधता के पक्षधर थे और यही हमारी ताकत है।’’

उन्होंने कहा,‘‘हमें इस बात पर चिंता करनी चाहिए कि वह जिस चीज के लिए खड़े हुए,उसे धीरे-धीरे करके समाप्त किया जा रहा है।’’ पार्टी ने कहा,‘‘ हमारे स्वतंत्रता आंदोलन के नेता,आधुनिक भारत की नींव रखने वाले दूरदृष्टा, भारत के हितों की रक्षा करने वाले निर्भीक राष्ट्रवादी, पीढ़ियों की सोच में बदलाव लाने वाले प्रेरणास्रोत पंडित जवाहर लाल नेहरू भारत माता के सच्चे सपूत थे।’’