राजधानी में शराब हुई 10% तक महंगी, नई दरें 17 से

नई दिल्ली। राजधानी में शराब महंगी होने जा रही है। दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति के तहत शराब के शौकीनों को 17 नवम्बर से लगभग आठ से 10 फीसद अधिक कीमत चुकानी होगी। यह बढ़ोत्तरी निजी दुकानें खुलने के बाद होगी। इस संबंध में वित्त विभाग ने अधिसूचना जारी कर दी है। इसके लिए दिल्ली सरकार ने दिल्ली मूल्य संवर्धित कर अधिनियम 2004 में संशोधन किया है।
परिसर के बाहर यानी होटल, क्लब आदि में यह शुल्क 25 पैसे होगा। आबकारी विभाग इस वक्त राजधानी में पंजीकृत होने वाले शराब के ब्रांडों की एमआरपी तय करने की प्रक्रिया में है। आबकारी विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अभी कुछ ब्रांडों की दर तय की गई है। उनमें आठ से 10 फीसद बढ़ोत्तरी हुई है। अन्य ब्रांडों में भी इतनी ही बढ़ोत्तरी होगी।
अधिकारी के अनुसार कुछ खुदरा विक्रेता 35 प्रतिशत तक दाम में बढ़ोत्तरी की मांग कर रहे थे, लेकिन इस मांग को नहीं माना गया, क्योंकि इससे दिल्ली में शराब की ब्रिक्री प्रभावित होने का खतरा था। नई आबकारी नीति 2021-22 में वैट को लाइसेंस शुल्क में जोड़ दिया गया है। थोक मूल्य पर अब एक प्रतिशत की दर से आबकारी शुल्क और वैट लगाया गया है।