तेंदुलकर ने अफगानिस्तान के खिलाफ केएल राहुल और रोहित शर्मा की बल्लेबाजी को कहा-पावर-हिटिंग, अश्विन की गेंदबाजी शानदार


महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का मानना है कि टी20 विश्व कप के मैच के दौरान अफगानिस्तान के पास रविचंद्रन अश्विन की‘ बैक फ्लिप ’ गेंद का कोई जवाब नहीं था। चार साल बाद सीमित ओवरों के क्रिकेट में वापसी करते हुए अश्विन ने चार ओवर में 14 रन देकर दो विकेट लिये।

पूर्व भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने गुरुवार को केएल राहुल और रोहित शर्मा की भारत की सलामी जोड़ी की प्रशंसा की, जिन्होंने बू धाबी के शेख जायद स्टेडियम में टी20 वर्ल्ड कप मौजूदा आईसीसी के सुपर 12 चरण के ग्रुप 2 मैच में अफगानिस्तान के खिलाफ 66 रन की जीत के दौरान रिकॉर्ड दर्ज किया। दोनों ने पावर-हिटिंग के अपने अनुकरणीय प्रदर्शन के साथ आयोजन स्थल को रोशन किया क्योंकि उन्होंने 140 रन की साझेदारी की, जो टी 20 विश्व कप में किसी भी विकेट के लिए भारत के लिए सबसे अधिक और पुरुषों के लिए टी 20 आई में चौथा सबसे बड़ा ओपनिंग स्टैंड था।

रोहित और राहुल ने क्रमश: 74 और 69 रन बनाकर भारत को दो विकेट पर 210 रन बनाने में मदद की। अफगानिस्तान अच्छी शुरुआत का पीछा करने में नाकाम रहा और सात विकेट पर 144 रन पर सिमटने से पहले नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए।

महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का मानना है कि टी20 विश्व कप के मैच के दौरान अफगानिस्तान के पास रविचंद्रन अश्विन की‘ बैक फ्लिप ’ गेंद का कोई जवाब नहीं था। चार साल बाद सीमित ओवरों के क्रिकेट में वापसी करते हुए अश्विन ने चार ओवर में 14 रन देकर दो विकेट लिये। भारत ने अफगानिस्तान को 66 रन से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश की उम्मीदें बनाये रखी।

तेंदुलकर ने कहा ,‘‘ गेंदबाजी की बात करें तो अश्विन को लंबे समय बाद देखा। उसकी गेंदबाजी शानदार थी। उसकी बैक फ्लिप गेंद का अफगानिस्तान के बल्लेबाजों के पास कोई जवाब नहीं था। अश्विन ने नेट्स पर इस गेंद का ईजाद किया और उनके अलावा कोई यह गेंद नहीं डाल पाता है। उसके चार ओवरों में एक भी चौका नहीं पड़ा।’’ उन्होंने हार्दिक पंड्या औरऋषभ पंत के बीच साझेदारी को मैच का रूख पलटने वाली बताया जिसकी मदद से भारत ने बड़ा स्कोर बनाकर मैच अच्छे अंतर से जीता। उन्होंने कहा ,‘‘ हार्दिक और पंत के बीच साझेदारी शानदार थी।

आखिरी 3 . 3 ओवर में भारत ने 63 रन बनाये। मेरी नजर में वह गेम चेंजर था। जीत का ज्यादा अंतर भारतीय टीम के लिये अच्छा रहा।’’ तेंदुलकर ने कहा ,‘‘ रोहित और राहुल ने भी शानदार बल्लेबाजी की। अफगानिस्तान ने दोनों छोर से स्पिनरों से शुरूआत कराके गलती की। विकेट पर थोड़ी घास थी तो गेंद बल्ले पर आ रही थी। ऐसे में तेज गेंदबाज अधिक कारगर साबित होते।