टीके की कीमत घटाने पर जायडस कैडिला सहमत

नई दिल्ली। सरकार के साथ समझौते के बाद जाइडस कैडिला अपने कोविड-19 टीके की कीमत घटाकर 265 रुपए प्रति खुराक करने पर सहमत हो गई है, लेकिन अभी अंतिम समझौता नहीं हुआ है। सूत्रों ने रविवार को यह जानकारी दी। सुई मुक्त जाइकोव-डी टीके की प्रत्येक खुराक देने के लिए 93 रुपए की लागत वाले एक डिस्पोजेबल दर्द रहित जेट एप्लीकेटर की आवश्यकता होगी, जिससे इसकी कीमत 358 रुपए प्रति खुराक होगी। एक सूत्र ने कहा था कि अहमदाबाद स्थित इस दवा कंपनी ने पहले अपनी तीन खुराक वाली दवा के लिए 1900 रुपये की कीमत का प्रस्ताव दिया था।
इससे जुड़े एक सूत्र ने बताया, कंपनी और सरकार के बीच लगातार बातचीत के बाद, टीके के प्रत्येक खुराक की कीमत 358 रुपए निर्धारित की गई है, जिसमें 93 रुपए का एक डिस्पोजेबल जेट एप्लीकेटर भी शामिल है । इस मामले में अंतिम निर्णय इस सप्ताह होने की संभावना है। सूत्र ने बताया कि तीन खुराकों को 28 दिनों के अंतराल पर दिया जाना है । देश में विकसित यह दुनिया का पहला ऐसा टीका है, जो डीएनए-आधारित एवं सुई-मुक्त है । जाइकोव-डी को 20 अगस्त को दवा नियामक से आपातकालीन इस्तेमाल के लिए मंजूरी मिली थी । इस बीच, सरकार अब भी टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई) की सिफारिशों का इंतजार कर रही है, ताकि अन्य बीमारियों से ग्रसित वयस्कों और बच्चों के लिए टीकाकरण अभियान में जाइकोव-डी की शुरुआत की जा सके। एनटीएजीआई इस टीके को कोविड-19 निरोधक अभियान में शामिल करने के लिए प्रोटोकॉल और रूपरेखा प्रदान करेगा। आधिकारिक सूत्रों ने पहले कहा था कि जाइकोव-डी की कीमत कोवैक्सीन और कोविशील्ड से अलग होगी क्योंकि तीन-खुराकों वाला टीका होने के अलावा, इसके लिए एक विशेष फार्मा जेट इंजेक्टर की आवश्यकता होती है, जिसका इस्तेमाल टीकाकरण के लिए किया जाता है। उस फार्मा जेट इंजेक्टर का उपयोग लगभग 20,000 खुराक देने के लिए किया जा सकता है। सूत्र ने कहा, जेट एप्लीकेटर वैक्सीन तरल पदार्थ को प्राप्तकर्ता की कोशिकाओं में प्रवेश करने के लिए त्वचा में प्रवेश करने में मदद करता है। एक सूत्र ने बताया था कि कैडिला नवम्बर में करीब दो करोड़ खुराक मुहैया करा सकती है। (भाषा)