भारत का ऑस्ट्रेलिया दौरा : भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने ऑस्ट्रेलिया का 26 मैचों का विजयरथ रोका, पहली जीत दर्ज की

मिताली राज की भारतीय टीम ने एकदिवसीय क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया के उल्लेखनीय 26 मैचों की जीत का अंत किया। यास्तिका भाटी और बाकी बल्लेबाजों ने कदम बढ़ाया क्योंकि भारत ने रविवार को महिला एकदिवसीय मैच में अपना सर्वोच्च सफल रन का पीछा किया।

भारत की महिलाओं ने बल्ले और गेंद के साथ शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के एकदिवसीय क्रिकेट में 26 मैचों की जीत का रिकॉर्ड कायम किया। मिताली राज की भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने तीसरे और अंतिम एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय में आस्ट्रेलिया को दो विकेट से हराया लेकिन श्रृंखला 1-2 से गंवाई। भारत महिला 8 विकेट पर 266 (बटिया 64, वर्मा 55, सदरलैंड 3-30) ने ऑस्ट्रेलिया महिला को 9 विकेट पर 264 (गार्डनर 67, मूनी 52, गोस्वामी 3-37, वस्त्राकर 3-46) दो विकेट से हराया।

भारतीय गेंदबाजों ने एक बार फिर आस्ट्रेलिया को वापसी करने का मौका दिया जिससे मेजबान टीम ने तीसरे और अंतिम महिला एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में रविवार को यहां नौ विकेट पर 264 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। आस्ट्रेलिया की टीम एक समय 25वें ओवर में चार विकेट पर 87 रन बनाकर संकट में थी लेकिन एशलेग गार्डनर (67) और पिछले मैच में शतक जड़ने वाली बेथ मूनी (52) के बीच 98 रन की साझेदारी की बदौलत वापसी करने में सफल रही। ताहलिया मैकग्रा ने भी 32 गेंद में 47 रन की ताबड़तोड़ पारी खेली। भारत के लिए अनुभवी तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने 37 रन देकर तीन जबकि पूजा वस्त्रकार ने 46 रन देकर तीन विकेट चटकाए। आस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया।

टीम में वापसी कर रही राशेल हेन्स (13) और एलिसा हीली (35) ने पहले विकेट के लिए 8.1 ओवर में 41 रन जोड़कर टीम को सतर्क शुरुआत दिलाई। दूसरे वनडे में दिल तोड़ने वाली हार के बाद झूलन ने हेन्स को मिड आफ पर कैच कराके भारत को पहली सफलता दिलाई। चार गेंद बाद झूलन ने कप्तान मेग लेनिंग (00) को भी विकेटकीपर रिचा घोष के हाथों कैच करा दिया। एलिसा इसके बाद रन आउट हुई जबकि पूजा ने एलिस पैरी (26) को आउट करके आस्ट्रेलिया को चौथा झटका दिया। आस्ट्रेलिया की टीम हालांकि इसके बाद गार्डनर और मूनी के बाद साझेदारी की बदौलत वापसी करने में सफल रही। आस्ट्रेलिया तीन मैचों की श्रृंखला में 2-0 से आगे चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *