मेरे संगठन का एक-एक रुपया जरूरतमंदों के लिए

मुंबई। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) द्वारा अभिनेता सोनू सूद और उनके संगठन पर 20 करोड़ रुपए की कर चोरी का आरोप लगाए जाने के बाद अभिनेता ने सोमवार को कहा कि उनके संगठन का एक-एक रुपया जरूरतमंद और अनमोल जीवन को बचाने के लिए ‘अपनी बारी का इंतजार’ कर रहा है।
अपने परिसरों और उनसे संबद्ध लोगों के खिलाफ पिछले सप्ताह में कई बार हुई छापेमारी के बाद पहली बार अभिनेता (48) ने कहा कि वह ‘कुछ खास मेहमानों’ की खातिरदारी में व्यस्त थे इसलिए वह पिछले चार दिनों से लोगों की सेवा नहीं कर पाए। उन्होंने इंस्टाग्राम पर लिखा, ‘पूरी विनम्रता के साथ मैं वापस आ गया हूं। जीवन बचाने में आपकी सेवा की खातिर। मेरी यात्रा जारी है। जय ¨हद।’ अभिनेता और उनके लखनऊ स्थित बुनियादी ढांचा संगठन पर आयकर विभाग की छापेमारी के बाद सीबीडीटी ने दावा किया कि यह पाया गया है कि सूद ने ‘कई फर्जी संस्थाओं से फर्जी तरीके से ऋण के रूप में ‘बेनामी आय’ अर्जित की। ‘दबंग’ के अभिनेता कोविड-19 महामारी के दौरान अपने सूद चैरिटी फाउंडेशन के जरिए प्रवासियों और अन्य लोगों के लिए किए गए काम से बहुत अधिक सुर्खियों में आए थे। सीबीडीटी ने अभिनेता पर विदेशी अंशदान विनियमन कानून (एफसीआरए) के तहत नियम का उल्लंघन करने और विदेशों से चंदा लेने का आरोप लगाया। सूद ने अपने बयान में कहा कि उन्होंने अपनी ‘पूरी ताकत और दिल से’ देश के लोगों की सेवा में खुद को समर्पित करने का संकल्प लिया है। (भाषा)