पाकिस्तान के बाबर 9 छक्के उड़ाकर चमके, सिर्फ 11 गेंदों पर बटोरे 62 रन, T20 मैच में गेंदबाजों की नाक में किया दम

एक हैं पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम और, एक हैं पाकिस्तान में ही जन्में बाबर हयात दोनों के नाम में बाबर कॉमन है. लेकिन, बाबर हयात पाकिस्तान के लिए ना खेलकर हांगकांग के लिए क्रिकेट खेलते हैं. ठीक वैसे ही जैसे भारत के कई खिलाड़ियों ने अमेरिका जाकर खेलना शुरू कर दिया है. फिलहाल बाबर हयात कोउलुन क्लब के लिए हांगकांग में चल रहे T20 टूर्नामेंट में खेल रहे हैं, जहां उन्होंने बड़ा धमाका किया है. उन्होंने 9 छक्के उड़ाए हैं. सिर्फ 11 गेंदों पर 62 रन बटोरे हैं. विरोधी गेंदबाजों को पानी पिलाया है. अकेले ही सामने वाली टीम के दांत खट्टे किए हैं. जी हां, हांगकांग की जमीन पर मुकाबला था कोउलुन क्रिकेट क्लब और डायस्क्वा क्लब के बीच, जिसमें कोउलुन क्लब ने 60 रन से मुकाबला जीत लिया.

मुकाबले में बल्ले से रन बरसे तो उसके बाद बादल भी बरसते नजर आए, जिस वजह से इसका फैसला डकवर्थ लुईस नियम के तहत करना पड़ा, जिसमें कोउलुन क्रिकेट क्लब जीत गया. ये इस क्लब की टूर्नामेंट के 2 मैचों में पहली जीत है. इससे पहले वो एक मैच हार गया था. इस जीत के साथ ये क्लब पॉइंट्स टेबल में दूसरे नंबर पर है.

अब जरा बाबर हयात का कमाल भी जान लीजिए. मुकाबले में बैटिंग पहले उन्हीं के क्लब कोउलुन ने की. बाबर ओपनिंग पर उतरे और उतरते ही इरादे जता दिए. पहले विकेट के लिए 59 रन की साझेदारी हुई. दूसरे ओपनर ऐजाज खान आउट हो गए पर बाबर हयात एक छोर संभाले डटे रहे. उन्होंने डायस्क्वा क्लब के गेंदबाजों का धागा खोलना जारी रहा. दूसरे विकेट के लिए भी अर्धशतकीय साझेदारी हुई. लेकिन इस बार जो बल्लेबाज आउट हुआ वो बाबर हयात रहे. टीम का दूसरा विकेट 126 रन के स्कोर पर गिरा, जिसमें से 81 रन अकेले बाबर हयात रहे.

बाबर ने 50 गेंदों का सामना करते हुए मुकाबले में 81 रन ठोके, जिसने टीम को 20 ओवर में 6 विकेट पर 165 रन तक पहुंचने में मदद की. बाबर ने विस्फोटक पारी 162 की स्ट्राइक रेट से खेली, जिसमें 9 छक्के और 2 चौके शामिल रहे. यानी अपनी इनिंग के 81 रन में 62 रन उन्होंने सिर्फ 11 गेंदों पर बाउंड्रीज के जरिए बनाए.

खैर, डायस्क्वा क्लब 166 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरा. लेकिन इतने रन को चेज कर पाना उसके बस की बात नहीं दिखी. सिर्फ 20 रन पर टीम के 6 बल्लेबाज आउट हो गए. इसके बाद 7वें विकेट के लिए 17 रन की साझेदारी हुई ही थी कि तभी मैच का नतीजा डकवर्थ लुईस से निकालने की नौबत आन पड़ी और उसमें कोउलुन क्लब क्लियर विनर बनकर उभरा. कोउलुन की ओर से जेसन डेविडसन ने सबसे ज्यादा 4 विकेट, 3 ओवर में 15 रन देकर लिए.

मैच का हीरो कौन था, इसे लेकर ज्यादा माथापच्ची नहीं करनी पड़ी. बाबर हयात को उनकी कमाल की विस्फोटक पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया.