मुजफ्फरनगर की महापंचायत को चौधरी नरेश टिकैत ने बताया धर्मयुद्ध, बोले- जुटेंगे कई राज्यों के किसान

मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना में गठवाला खाप के गांव सरनावली में आयोजित पंचायत में भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने कहा कि किसान संयुक्त मोर्चा के आह्वान पर जीआईसी में पांच सितंबर को महापंचायत रखी गई है। यह महापंचायत नहीं देश के किसानों का धर्मयुद्ध है। इस धर्मयुद्ध में हिस्सा न लेने वाले का इतिहास खराब हो जाएगा। उन्होंने कहा कि आपको केवल भीड़ को संभालने और उसमें आए लोगों का आदर सत्कार करने की आवश्यकता है। पूरे देश का किसान महापंचायत में किसान आंदोलन का इतिहास बदल देगा। पंचायत में गठवाला खाप के पांच थांबेदारों ने किसान आंदोलन का समर्थन किया। थांबेदारों ने कहा कि किसानों के इस धर्मयुद्ध में वे खाप के बाबा को भी अपने साथ ले आएंगे।

गठवाला खाप के गांव सरनावली में गठवाला खाप की पंचायत का आयोजन हुआ। पंचायत में पहुंचे भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने कहा कि देश के सभी किसान संगठनों के आह्वान पर पांच सितंबर को महापंचायत का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि देश के किसान की आन-बान-शान के लिए महापंचायत रखी गई है। इस महापंचायत में जाने से मना करने वाले का इतिहास खराब हो जाएगा। जिसको नहीं जाना है वह अपने घर चुपचाप बैठ जाए। अखबारों में ब्यान देने से यह धर्मयुद्ध नहीं टलेगा।

उन्होंने कहा कि गठवाला खाप ने हमेशा सभी किसान आंदोलन और किसानों की समस्याओं को लेकर कंधे से कंधा मिलाकर चलने का काम किया है। इस खाप के लोग बहुत बहादुर हैं। वे कायर कभी नहीं हो सकते। नए कृषि कानून लागू होने से पूरे देश का किसान बर्बाद हो जाएगा। धरती किसान की माता और किसान की पहचान है। यह चली गई तो सब कुछ चला जाएगा। किसान की भावी पीढ़ी हमें कभी माफ नहीं करेगी। देश के किसान की समस्या के लिए गाजीपुर बॉर्डर पर देश के सभी किसान संगठन के पदाधिकारी व कार्यकर्ता नौ महीने से आंदोलन कर रहे हैं। इस सरकार को किसानों की आवाज आज तक सुनाई नहीं दी।

फुगाना गांव के थांबेदार वीरसैन मलिक ने कहा कि हमारी पहचान खाप के लोगों से है। हम उनसे हैं वे हमसे नहीं। खाप के लोगों की मर्जी के बिना हमें कोई निर्णय लेने का अधिकार नहीं है। लांक गांव के थांबेदार चौ. रविंद्र सिंह व बहावड़ी के बाबा श्याम सिंह ने कहा कि हम किसी के दबाव में कोई निर्णय नहीं लेंगे। खाप व किसान को किसी भी कीमत पर बंटने नहीं दिया जाएगा।

पुरा महादेव से आए आजाद मलिक ने कहा कि किसान आंदोलन में गठवाला खाप का विशेष सहयोग रहेगा। उन्होंने कहा कि वे अपने बाबा को भी मना लेंगे। देश के किसानों के साथ गठवाला खाप भी शामिल रहेगी। पंचायत में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष चौ. तरसपाल मलिक, पूर्व ब्लॉक प्रमुख विनोद मलिक, धर्मेंद्र मलिक, चौ. प्रवीण बालियान, चौ. थामसिंह व चौ. मुकेश मलिक ने विचार व्यक्त किए।