महबूबा को निर्मला सीतारमण ने दी नसीहत, कहा- पूर्व CM को ऐसे बयान से बचना चाहिए

निर्मला सीतारमण ने उन्हें नसीहत देते हुए साफ किया है कि जम्मू कश्मीर भारत का हिस्सा था, है और रहेगा। लिहाजा इस पर बहस नहीं की जानी चाहिए। महबूबा मुफ्ती को नसीहत देते हुए सीतारमण ने कहा कि एक पूर्व मुख्यमंत्री को इस तरह के बयान देने से बचना चाहिए।
पीडीपी अध्यक्षा महबूबा मुफ़्ती ने कुलगाम में तालिबान के बहाने केंद्र पर निशाना साधा। उन्होंने केंद्र सरकार से जम्मू कश्मीर के लोगों से बातचीत शुरू करने की अपील की।महबूबा मुफ्ती के बयान के बाद निर्मला सीतारमण ने उन्हें नसीहत देते हुए साफ किया है कि जम्मू कश्मीर भारत का हिस्सा था, है और रहेगा। लिहाजा इस पर बहस नहीं की जानी चाहिए। महबूबा मुफ्ती को नसीहत देते हुए सीतारमण ने कहा कि एक पूर्व मुख्यमंत्री को इस तरह के बयान देने से बचना चाहिए।

बता दें कि महबूबा मुफ्ती ने कहा, अगर केंद्र सरकार जम्मू कश्मीर में शांति सुनिश्चित करना चाहती है। तो उसे आर्टिकल 370 बहाल करना होगा और बातचीत के जरिए कश्मीर के मुद्दों को हल करना होगा। जम्मू-कश्मीर के लोग बर्दाश्त कर रहे हैं, जिस वक्त बर्दाश्त का बांध टूट जाएगा उस वक्त आप नहीं रहोगे और मिट जाओगे। हमारा इम्तिहान मत लो सुधर जाओ, संभल जाओ। चींटी जब हाथी के सूंड में घुस जाती है तब वह हाथी का जीना हराम कर देती है।