कोरोना की तीसरी लहर ने बढ़ा दी लोगों की चिंता, पांडिचेरी में 20 बच्चे एक साथ हुए अस्पताल में भर्ती

भारत में कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत हो गई है और यह बच्चों पर कहर बनकर टूट रही है। देश के कई हिस्सों में बड़ी संख्या में बच्चे इसका शिकार हो रहे हैं। ताजा मामला पांडिचेरी का है जहां कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद 20 बच्चों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आनन-फानन में सभी बच्चे अस्पताल में भर्ती हैं और फिलहाल सभी खतरे से बाहर हैं। यह जानकारी स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण सेवा निदेशक एस मोहन कुमार ने दी है।

उन्होंने बताया है कि बच्चों को कादिरकामम स्थित इंदिरा गांधी सरकारी मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल बच्चों की आयु के साथ एक लिस्ट बनाई जा रही है। भारत में रोजाना 40 हजार से ज्यादा मामले कोरोना के सामने आ रहे हैं। इससे 15 दिन पहले देश में कोरोना की रफ्तार कम हो गई थी लेकिन अब एक बार फिर कोरोना ने देश के कई हिस्सों में अपने पैर पसारने शुरू कर दिए हैं। इसकी मुख्य वजह वायरस में लगातार देखने को मिल रहे बदलावों को बताया जा रहा है। कोरोना वायरस लगातार अपना स्वरूप बदल रहा है। पहले डेल्टा और बीटा, इसके बाद एल्फा और अब लैंब्डा ने स्वास्थ्य विशेषज्ञों की चिंता बढ़ा दी है।