जम्मू वायुसेना स्टेशन पर हमले की जांच गृह मंत्रालय ने एनआईए को सौंपी

नयी दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने जम्मू वायुसेना स्टेशन पर कुछ दिन पहले हुए ड्रोन हमले से संबंधित मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को सौंप दी है।

एनआईए इस मामले को दोबारा रजिस्टर कर आधिकारिक रूप से इसकी जांच की जिम्मेदारी आज से संभाल लेगी।

इससे पहले राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड एनएसजी और एनआईए संयुक्त रूप से इस मामले की जांच कर रहे थे। साथ ही जम्मू पुलिस ने आतंकवाद से संबंधित धाराओं में प्राथमिकी दर्ज की थी।

एनआईए की टीम विस्फोट के बाद प्रारंभिक सबूत जुटाने के लिए रविवार को ही जम्मू वायुसेना स्टेशन गई थी। बाद में इन सबूतों को फॉरेंसिक जांच केे लिए भेजा गया था।
हमले की जांच कर रही एजेंसियों ने सोमवार को कहा था कि इसमें आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का हाथ हो सकता है। आरडीएक्स के इस्तेमाल को देखते हुए इसमे पाकिस्तान में सक्रिय तत्वों का हाथ होने की भी आशंका व्यक्त की जा रही है।

रविवार की रात अपनी तरह के पहले हमले में जम्मू वायु सेना स्टेशन पर ड्रोन से हमला किया गया जिसमें दो वायु सेना कर्मी घायल हो गए थे।