यूपी: जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए 3 जुलाई को होगा मतदान, 26 जून से नामांकन की प्रक्रिया शुरू

उत्तर प्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग ने जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव कार्यक्रम की घोषणा कर दी है और इसके लिए अधिसूचना भी जारी कर दी है. राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार ने बताया कि आगामी 26 जून से नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. नाम निर्देशन और उसके पत्रों की जांच 26 जून को शुरू हो जाएगी. वहीं 29 जून को उम्मीदवार अगर अपनी उम्मीदवारी का नाम वापस लेना चाहेंगे, तो सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक अपना नाम वापस ले सकते हैं.
मनोज कुमार ने आगे बताया कि 3 जुलाई को मतदान और मतगणना दोनों कराई जाएगी. मतदान सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक चलेगा और मतगणना भी 3 जुलाई को ही होगी. जो 3 बजे के बाद से प्रारंभ होगी और तब तक चलेगी, जब तक काउंटिंग पूरी न हो जाए.
बता दें, उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष के पदों के लिए होने वाले चुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया गया है. सूबे के पंचायती राज विभाग की तरफ से दी गई जानकारी में कहा गया है कि चुनाव के लिए 15 जून से 03 जुलाई 2021 तक की तारीख तय की गई है. राज्यपाल और राज्य निर्वाचन आयोग से सलाह के बाद यह फैसला लिया गया है.
उत्तर प्रदेश में होने वाले जिला पंचायत अध्यक्ष इलेक्शन की तारीख को शासन ने अधिसूचना जारी करते हुए राज्यपाल की आज्ञा से निर्धारित कर दिया है. शासन की तरफ से जारी अधिसूचना में बताया गया कि,आगामी 15 जून से 3 जुलाई के मध्य यूपी में चुनाव होंगे.
UP: जिला पंचायतों पर कब्जे की जंग, यादव-ओबीसी पर ही क्यों दांव खेल रही सपा?
जानकारी के मुताबिक, जिला पंचायत अध्यक्ष की कुल सीटें 75 पद हैं जिनमें 6 पद महिलाओं के लिए आरक्षित हैं. अनुसूचित जाति के लिए 16 पद रिजर्व है, तो वहीं पिछड़ी जाति के लिए 20 पद और महिलाओं के लिए 7 पद आरक्षित हैं.
जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए 27 पद अनारक्षित हैं. वहीं इन पदों पर कुल 3050 चुने हुए जिला पंचायत सदस्य अपने बीच में से किसी एक को अपना अध्यक्ष चुनेंगे. अगर बात ब्लॉक प्रमुख पद की करें तो कुल 826 पद हैं. आने वाले समय में होने वाले जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए अभी से राजनीतिक पार्टियां सियासी गणित लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी हैं. क्योंकि यह चुनाव अप्रत्यक्ष रूप से होता है. अभी हाल ही में यूपी में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव संपन्न हुए हैं और अब जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव होना शेष है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *