…तो अब दूर हुए गिले शिकवे? अटकलों के बीच प्रधानमंत्री मोदी ने की योगी आदित्यनाथ की तारीफ

उत्तर प्रदेश की राजनीति में अफवाहों अटकलों का बाजार गर्म है. कयासों का सिलसिला योगी आदित्यनाथ को लेकर शुरू हुआ था. चर्चाएं ये थीं कि यूपी में विधानसभा चुनाव से पहले योगी आदित्यनाथ के पर कतरे जा रहे हैं. बीते पखवाड़े में बीजेपी में चले बैठकों के दौर मंथन से इन बातों को बल मिलने लगा था. लखनऊ में बीजेपी के बड़े नेता आने लगे तो दिल्ली में पार्टी आलाकमान भी बैठकों पर बैठक करने लगा था. कहा यहां तक जाने लगा कि बीजेपी के अंदर की कलह अब मोदी योगी के बीच की लड़ाई बन गई है. कई दिनों की गहमा गहमी के बाद योगी दिल्ली तलब हुए तो हर गिले शिकवे दूर किए गए. जिसका असर यह है कि तमाम अटकलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योगी आदित्यनाथ की तारीफ की है.
प्रधानमंत्री मोदी ने योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली यूपी सरकार की वरिष्ठ नागरिकों के लिए शुरू की गई हेल्पलाइन सेवा की तारीफ की है. नरेंद्र मोदी ने इसे अच्छा प्रयास बताया है. मगर प्रधानमंत्री मोदी की इस तारीफ के राजनीतिक मायने अलग ही निकाले जा रही है. कहा जा रहा है कि भले ही पीएम मोदी का यह ट्वीट एक स्कीम को लेकर आया है, मगर योगी आदित्यनाथ की तारीफ करके प्रधानमंत्री मोदी ने एक बड़ा संदेश देने की कोशिश की है. ऐसा माना जा रहा है कि पीएम मोदी ने यह संकेत देने का प्रयास किया है कि अब उत्तर प्रदेश केंद्र की लीडरशिप के बीच सब ठीक है.

मगर हाथ के हाथ आपको यह भी बता दें कि यूपी में बीजेपी के अंदर माहौल जब चरम पर था, तो उस दौर में योगी आदित्यनाथ का जन्मदिन भी पड़ा था. मगर प्रधानमंत्री मोदी ने उनको जन्मदिन की बधाई तक नहीं दी थी. लेकिन अब प्रधानमंत्री मोदी जिस पहल की तारीफ कर रहे हैं, उसकी शुरुआत योगी आदित्यनाथ ने कोरोना महामारी के बीच पिछले महीने की थी. इस योजना को केंद्र सरकार की लेकर आई थी, जिसके तहत संकट के समय वरिष्ठ नागरिकों तक स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं, भावनात्मक समर्थन कानूनी सहायता के मामले में उनकी मदद करने के लिए पहल की गई थी.

14 मई से योगी सरकार ने इसे अपने राज्य में संचालित किया. सभी 75 जिलों में बुजुर्ग नागरिकों को पूर्ण सहायता प्रदान करने के लिए टोल फ्री हेल्पलाइन सुविधा चालू की गई. यूपी में अपनों से बिछड़े सड़क व फुटपाथ पर जीवन बिताने को मजबूर बुजुर्गों के लिए मुख्यमंत्री योगी की पहल काफी मददगार भी साबित हुई है. ‘प्रोजेक्ट एल्डरलाइन’ के तहत यूपी में शुरू की गई टोल फ्री हेल्पलाइन 14567 नम्बर पर जानकारी मिलने पर ऐसे अनेक लोगों की रोज मदद की जा रही है. इस योजना के तहत बुजुर्गों की चिंता करना, समय पर उनको इलाज दिलाना साथ में भावनात्मक सहयोग देने का काम किया जा रहा है. इसके तहत न केवल बुजुर्गों की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जा रहा है, बल्कि उनको बीमारी से बचाने का भी काम हो रहा है. यह स्कीम काफी पसंद की जा रही है, जिसको लेकर पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए यूपी सरकार की तारीफ की है.