भारत बंद : अमित शाह ने शाम 7 बजे किसान नेताओं को बैठक के लिए बुलाया

भारत बंद के बीच सरकार एक्शन में आ गई है। गृह मंत्री अमित शाह ने आज शाम किसान नेताओं को बैठक के लिए बुलावा भेजा है। यह बैठक ऐसे समय में हो रही है जब बुधवार को सरकार और किसानों के बीच छठे दौर की बैठक होने वाली है। अब तक के पांच दौर की बैठक में कोई निष्कर्ष नहीं निकल सका है। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि हमारी आज शाम 7 बजे गृह मंत्री के साथ बैठक है। हम अभी सिंघू बॉर्डर जा रहे हैं और वहां से हम गृह मंत्री जाएंगे।

इस बीच पंजाब और हरियाणा से ट्रैक्टर ट्रॉलियों व कारों में सवार होकर और किसान मंगलवार को यहां सिंघु बॉर्डर पर पहुंचे जहां केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शनकारी किसानों की तरफ से बुलाए गए ‘भारत बंद’ के कारण सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गए हैं। भारत बंद की वजह से हालांकि लगातार 13 दिनों से सिंघु बॉर्डर पर डटे किसानों के लिये चावल, आटा, दाल, तेल, दूध, साबुन और दंतमंजन जैसी आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति भी प्रभावित हुई है।
इसे भी पढ़ें: नये कृषि कानून से सिर्फ बिचौलिये और दलाल प्रभावित हुए, यही लोग किसानों को भड़का रहे हैं
पानीपत से आए गुरजैंत सिंह ने कहा, “स्वाभाविक रूप से राशन की आपूर्ति प्रभावित होगी। लेकिन अगले दो-तीन महीनों के लिये हमारे पास पर्याप्त भंडार है। हम लंबे समय तक के लिये तैयारी के साथ आए थे।” उन्होंने कहा कि लेकिन यह संख्या बढ़नी शुरू हो गई है और बहुत से लोग साइकिलों और बैलगाड़ियों आ रहे हैं। दोपहर के भोजन के समय प्रदर्शनकारी कुछ गैर सरकारी संगठनों द्वारा संचालित लंगर में भोजन के लिये कतारबद्ध बैठे नजर आए। भोजन के बाद कुछ किसान आराम करने के लिये ट्रॉलियों में चले गए जबकि कुछ अन्य मंच से भाषण दे रहे अपने नेताओं को सुनने लगे।