भारतीय नौसेना एक उत्कृष्ट बल: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

नयी दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को नौसेना दिवस पर भारतीय नौसेना को बधाई दी और उसे एक ‘‘उत्कृष्ट बल’’ बताया। सिंह ने ट्वीट कर भारतीय नौसेना के पेशेवर व्यवहार की प्रशंसा की और भारत के समुद्री क्षेत्र को सुरक्षित रखने के लिए उसके प्रयासों का विशेषतौर पर उल्लेख किया। सिंह ने कहा, ‘‘ भारतीय नौसेना दिवस 2020 के अवसर पर इस उत्कृष्ट बल के सभी कर्मियों को मेरी शुभकामनाएं। समुद्री सुरक्षा सुनिश्चित करके हमारे समुद्र को सुरक्षित रखने में भारतीय नौसेना सबसे आगे हैं। मैं उनकी वीरता, साहस और पेशेवर रवैये को सलाम करता हूं।’’

सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे, नौसेना प्रमुख करमबीर सिंह और वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने भी नौसेना दिवस पर राष्ट्रीय समर स्मारक पर देश के शहीद नायकों को श्रद्धांजलि दी। वर्ष 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान भारतीय नौसेना द्वारा कराची बंदरगाह पर किए गए हमले की याद में प्रत्येक वर्ष चार दिसंबर को नौसेना दिवस मनाया जाता है। एक संदेश में एडमिरल सिंह ने भारत की समुद्री सुरक्षा और क्षेत्रीय अखंडता को सुनिश्चित करने में नौसेना की दृढ़ प्रतिबद्धता दोहराई। भारतीय नौसेना ने हिंद महासागर में चीनी नौसेना के जहाजों और पनडुब्बियों की बढ़ती सक्रियता को देखते हुए क्षेत्र में अपनी गतिविधि बढ़ा दी है। एडमिरल सिंह ने कहा, ‘‘नौसेना दिवस 2020 के अवसर पर देश की समुद्री सुरक्षा और क्षेत्रीय अखंडता सुनिश्चित करने के वास्ते हम राष्ट्र की सेवा के लिए भारतीय नौसेना की दृढ़ प्रतिबद्धता को दोहराते हैं।’’
नौसेना दिवस के अवसर पर कई केंद्रीय मंत्रियों, राजनयिकों और प्रमुख हस्तियों ने भारतीय नौसेना को बधाई दी। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ट्वीट किया कि विदेशों में भारत के हितों को सुनिश्चित करने में उनका मंत्रालय नौसेना का करीबी सहयोगी रहा है और दोनों पक्षों ने मिलकर मानवीय सहायता प्रदान की है तथा आपदा के समय राहत मुहैया कराई है जिसने देश का मान बढ़ाया है। उन्होंने कहा, ‘‘इस भागीदारी को आगे बढ़ाने के लिए आशान्वित हूं।’’ अमेरिकी राजदूत केन जस्टर ने भी भारतीय नौसेना को बधाई दी और पिछले महीने हुए सफल मालाबार नौसेना अभ्यास का जिक्र किया। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘भारत में अमेरिकी दूतावास की ओर से नौसेना दिवस पर भारतीय नौसेना को बहुत बहुत बधाई। इस साल के सफल मालाबार नौसेना अभ्यास में अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया की मेजबानी करने के लिए शुक्रिया। आशा करता हूं कि भारत-अमेरिका रक्षा भागीदारी में लगातार वृद्धि होती रहेगी।’’