जावड़ेकर का राहुल पर हमला, पूछा- कांग्रेस शासित राज्यों में बढ़ी रेप की घटनाओं पर चुप्पी क्यों?

नयी दिल्ली। भाजपा ने पंजाब में बिहार के एक प्रवासी परिवार की छह वर्षीय बच्ची के कथित बलात्कार एवं हत्या के मामले में शनिवार को कांग्रेस पर निशाना साधा और विपक्षी दल के नेताओं राहुल गांधी एवं प्रियंका गांधी वाड्रा से सवाल किया कि वे पीड़िता के परिवार से मिलने अभी तक क्यों नहीं गए। केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर ने राहुल गांधी और उनकी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा पर उत्तर प्रदेश के हाथरस में ‘‘राजनीतिक दौरे’’ पर जाने का आरोप लगाया। हाथरस में एक दलित युवती का कथित रूप से सामूहिक बलात्कार किया गया था और बाद में उसकी मौत हो गई थी। जावड़ेकर ने सवाल किया कि दोनों नेताओं ने कांग्रेस शासित पंजाब और राजस्थान में महिलाओं के खिलाफ जघन्य अपराधों को लेकर भी वही प्रतिक्रिया क्यों नहीं दी, जो उन्होंने हाथरस मामले में दी थी। उन्होंने कांग्रेस नेताओं के हाथरस जाने का जिक्र करते हुए यहां संवाददाताओं से कहा कि वे वहां ‘तस्वीर खिंचवाने’ गए थे। जावड़ेकर ने कहा, ‘‘बिहार के दलित प्रवासी परिवार की छह वर्षीय बेटी का पंजाब के टांडा में बलात्कार किया गया और उसकी हत्या कर दी गई। हमारी पार्टी के पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय साम्पला ने परिवार से मुलाकात की।

कांग्रेस के किसी नेता ने उनसे मुलाकात नहीं की।’’ उन्होंने कहा, ‘‘वे (गांधी परिवार) वहां महिलाओं के खिलाफ ज्यादती को नहीं देख पाते, जहां उनकी (कांग्रेस) सरकार है। न तो राहुल गांधी और न ही प्रियंका गांधी वहां गए और ना ही उनकी अध्यक्ष सोनिया गांधी का कोई बयान आया।’’ जावड़ेकर ने राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि वह उन लोगों के साथ मिलकर आगामी बिहार विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार कर रहे हैं, जो उनके राज्य की बेटी के खिलाफ ज्यादती पर ‘‘चुप्पी साधे’’ हुए हैं। उन्होंने दावा किया कि टांडा में बलात्कार एवं हत्या मामले में दोषियों को अब तक गिरफ्तार नहीं किया गया है और उन्होंने उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। गौरतलब है कि छह वर्षीय बच्ची के साथ कथित तौर पर बलात्कार किया गया, उसकी हत्या कर दी गई और फिर उसे जला दिया गया। उसका आधा जला हुआ शव बुधवार को टांडा के गांव में एक घर में मिला। पुलिस ने बृहस्पतिवार को बताया था कि गुरप्रीत सिंह और उसके दादा सुरजीत सिंह को हत्या, बलात्कार के आरोपों में भारतीय दंड संहिता की अन्य प्रासंगिक धाराओं और बाल यौन अपराध संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम के प्रावधानों के तहत गिरफ्तार किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *