वर्जीनिया के लेफ्टिनेंट गवर्नर की दौड़ में भारतीय-अमेरिकी उद्योगपति पुनीत अहलूवालिया

वाशिंगटन। भारतीय मूल के अमेरिकी उद्योगपति पुनीत अहलूवालिया वर्जीनिया से लेफ्टिनेंट गवर्नर पद के लिए रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवारों में शामिल हो गए हैं।आशा, विकास और अवसर के संदेश के साथ वह अपना चुनाव अभियान चला रहे हैं। पुनीत आहलूवालिया (55) ने पिछले सप्ताह इस पद के लिए दावेदारी पेश करते हुए कहा था, ‘‘ वर्जीनिया अभी मुश्किल में है और समय निकलता जा रहा है क्योंकि डेमोक्रेट पार्टी वहीं पुराने वादे ही कर रही है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ मेरा अभियान वर्जीनिया में हर व्यक्ति, हर परिवार और हर समुदाय के लिए आशा, विकास और अवसर का संदेश लेकर आएगा।’’ दिल्ली में जन्मे आहलूवालिया 1990 में अमेरिका चले गए थे। उनकी पत्नी नाडिया मूल रूप से अफगानिस्तान की हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘ एक प्रवासी होने की वजह से, मेरा और मेरी पत्नी का जन्म अमेरिका में नहीं हुआ था। हमने अच्छे कारणों के चलते अमेरिकी बनने का फैसला किया। मैं कोई राजनेता नहीं हूं। मैं एक गौरवान्वित अमेरिकी हूं।’’ आहलूवालिया ने कहा, ‘‘ मैं अमेरिका और वर्जीनिया करीब 30 साल पहले आया था। मेरी पहली नौकरी खुदरा दुकानों पर इलेक्ट्रॉनिक्स का सामान देना था और फिर मैंने व्यवसाय शुरू किया और दूसरों के लिए नौकरी तथा अवसरों का सृजन किया। आज मैं ग्राहक अभिग्रहण, विपणन और रणनीतिक मामलों पर अंतरराष्ट्रीय व्यवसायों के लिए एक सलाहकार के रूप में काम करता हूं।’’ अहलूवालिया उत्तरी वर्जीनिया रिपब्लिकन बिजनेस फोरम के लिए काम करते हैं और रिपब्लिकन पार्टी की स्थानीय इकाई के सक्रिय सदस्य हैं।