इरफान का दावा, इस श्रृंखला में खराब प्रदर्शन के कारण ही गंभीर का हो गया करियर समाप्त

कराची। पाकिस्तानी टीम से बाहर चल रहे बायें हाथ के तेज गेंदबाज मोहम्मद इरफान ने कहा कि किस तरह से 2012 की द्विपक्षीय श्रृंखला के दौरान गौतम गंभीर उनका सामना करने को लेकर असहज रहते थे जिसके बाद भारतीय सलामी बल्लेबाज का सीमित ओवरों की क्रिकेट का करियर ज्यादा दिन तक नहीं चला। सीमित ओवरों की इस श्रृंखला (टी20 और वनडे) के दौरान सात फीट एक इंच लंबे इरफान ने गंभीर को चार बार आउट किया। बायें हाथ का यह बल्लेबाज इसके बाद भारत की तरफ से केवल एक और श्रृंखला (इंग्लैंड के खिलाफ) ही खेल पाया और फिर उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया।

 

इरफान ने एक चैनल से कहा कि जब मैं भारत के खिलाफ खेला तो वे मुझे सहज होकर नहीं खेल पा रहे थे। भारत में 2012 की श्रृंखला में उनमें से कुछ ने मुझे बताया कि वे मेरे लंबे कद के कारण मेरी गेंद का सही अनुमान नहीं लगा पाते थे और गेंद की तेजी भी नहीं भांप पा रहे थे।

इरफान ने दावा किया कि इस श्रृंखला में खराब प्रदर्शन के कारण ही गंभीर का करियर समाप्त हो गया।उन्होंने कहा, ‘‘वह (गंभीर) मेरा सामना करना पसंद नहीं करता था। मुझे अक्सर लगता था कि वह मुझसे आंख मिलाने से बचता है। मुझे याद है कि मैंने 2012 की सीमित ओवरों की श्रृंखला में उसे चार बार आउट किया था और वह मेरे सामने असहज रहता था। गंभीर ने अपना अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय पाकिस्तान के खिलाफ उसी श्रृंखला में अहमदाबाद में खेला था।