नाथूराम गोडसे को आतंकवादी कहने वाले लोग पहले अपने गिरेबां में झांके : प्रज्ञा ठाकुर

भोपाल से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने एक बार फिर भाजपा के लिए मुसीबत खड़े कर चुकी हैं। साध्वी ने आज के बयान में महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताते हुए कहा कि वो देशभक्त थे और रहेंगे भी। उन्होंने कहा कि नाथूराम गोडसे को आतंकवादी कहने वाले लोग पहले अपने गिरेबां में झांके। साध्वी ने दावा किया कि ऐसे लोगों को इन चुनावों में जवाब मिल जाएगा।

साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि कि हमेशा से कांग्रेस ने आतंकियों को सम्मानित किया है और उनका साथ दिया है, और देश भक्तो को प्रताड़ित किया है। कभी उनको जी कहती है कभी साहिब, यह उनका चरित्र है। इस बार जनता जवाब देगी क्योंकि यह जो चुनाव है देश भक्ति का चुनाव है देश का जो पुज्य है भगवा रंग उंसके सम्मान के लिए है नारी के सम्मान के लिए है सैनिको के सम्मान के लिए है। बंगाल की चुनावी हिंसा बहुत ही निंदनीय है ममता के शासनकाल में जिस अराजकता फैली है चुनाव आयोग ने बहुत अच्छा निर्णय लिया और ऐसे इनको कंट्रोल किया जाएगा।
बता दें कि कुछ दिन पहले मक्कल नीधि मैयम (एमएनएम) के संस्थापक कमल हासन ने यह कहकर नया विवाद खड़ा कर दिया था कि आजाद भारत का पहला ‘आतंकवादी हिन्दू’ था। उन्होंने कहा था कि आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिन्दू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे है। वहीं से इसकी (आतंकवाद) शुरुआत हुई। महात्मा गांधी की 1948 में हुई हत्या का हवाला देते हुए हासन ने कहा कि वह उस हत्या का जवाब खोजने आये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *