कमल हासन पर फेंकी गई चप्पल

नई दिल्ली। अभिनेता से नेता बने कमल हासन इन दिनों दक्षिण की राजनीति से विवादों और चर्चाओं के केंद्र में लगातार बने हुए हैं। हिन्दू आतंकवाद पर नाथूराम गोडसे का नाम उछाले जाने से सुर्खियों में रहने वाले कमल हासन पर मदुरई के तिरुप्पारनकुंद्रम विधानसभा क्षेत्र में प्रचार के दौरान चप्पल फेंकी गई। पुलिस के पास दर्ज शिकायत में 10 लोगों के नाम शामिल हैं। जिसमें भाजपा कार्यकर्ता और दूसरे संगठन जैसे कि हनुमान सेना का नाम है। जब हासन स्टेज पर लोगों की भीड़ को संबोधित कर रहे थे तब उनकी तरफ चपप्ल फेंकी गई।

कमल हासन के मंच पर भीड़ की ओर से 4 चप्पलें फेंकी गईं, लेकिन वह सभी मंच से दूर रह गईं। पुलिस के अनुसार यह चप्पल हासन को नहीं लगी और भीड़ पर गिर गई। बता दें कि उनपर चप्पल नाथूराम गोडसे को भारत का पहला हिंदू आतंकवादी कहने के तीन दिन बाद फेंकी गई। गौरतलब है की अभिनेता से नेता बने कमल हसन ने कहा कि आजाद भारत का पहला आतंकी हिंदू था, जिसका नाम नाथूराम गोडसे था। तमिलनाडु के कुरूर जिले में क्कल नीधि मैयम (एमएनएम) के संस्थापक कमल हसन ने प्रत्याशी के प्रचार के दौरान ये विवादित बयान दिया था। जिसके बाद से हसन के बयान को लेकर देशभर में हिन्दू, हिंदुत्व और हिन्दू आतंकवाद के मुद्दे पर बहस लोकसभा चुनाव के आखिरी दौर में तेज हो गई थी।

हासन के बयान पर तमिलनाडु सरकार में दुग्ध एवं डेयरी विकास राज्यमंत्री और अन्नाद्रमुक के वरिष्ठ नेता केटी राजेंद्र बालाजी ने तो यहां तक कह दिया है कि इस तरह की बयानबाजी के लि एकमल हसन की जीभ काट देनी चाहिए। इससे पहले विवेक ओबेरॉय ने भी ट्वीट कर कमल हसन को निशाने पर लेते हुए लिखा था किव ‘प्रिय कमल सर, आप बहुत बड़े कलाकार हैं। जैसे कला का कोई धर्म नहीं होता ठीक वैसे ही आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता। आप कह सकते हैं कि गोडसे आतंकवादी था, लेकिन आपने हिंदू शब्द का इस्तेमाल क्यों किया? इसलिए कि आप मुस्लिम बहुल इलाके में वोट हासिल करने की कोशिश कर रहे थे?’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *