रोहित के जीवन में नहीं थी खुशियां, पत्नी से चाहता था तलाक: वकील

नयी दिल्ली। रोहित शेखर को एनडी तिवारी का बेटा साबित करने के लिए चली लंबी कानूनी लड़ाई में उनका साथ देने वाले वकील वेदांत वर्मा का कहना है कि रोहित अपनी पत्नी से तलाक लेने पर विचार कर रहा था। वर्मा ने कहा कि रोहित को अपने पिता के साथ लंबी कानूनी लड़ाई में जीत मिलने के बाद भी खुशियां हासिल नहीं हो पाई। रोहित की हत्या का आरोप उसकी पत्नी पर है। वर्मा का कहना है कि रोहित ने उनसे तलाक के संबंध में सलाह मांगी थी।

वर्मा ने बताया, ‘‘ रोहित का जीवन कठिन था। नाजायज बेटा कहलाने की वजह से उसे काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। उसकी कानूनी लड़ाई जबर्दस्त थी। हालांकि इससे उसके जीवन पर असर पड़ा। उसकी कानूनी लड़ाई जैसे ही खत्म हुई, मुझे लगा कि अब उसके जीवन में खुशियां आएंगी।
उन्होंने कहा, ‘‘यह दुर्भाग्य की बात है कि आज वह इस दुनिया में नहीं है और उसकी पत्नी ने कथित तौर पर उसकी हत्या की है।’’ वर्मा का कहना है कि दंपति के बीच शादी के पहले दिन से ही झगड़ा शुरू हो गया था।