पश्चिम बंगाल : मुख्यमंत्री इसलिए धरने पर बैठी हैं कि कहीं ‘‘भ्रष्टाचार से जुड़े राज’’ बाहर न आ जाएं : योगी

पुरुलिया (पश्चिम बंगाल)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को एक विवादित बयान देते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल में भाजपा की सरकार बनी तो ‘‘तृणमूल कांग्रेस के गुंडे उसी तरह अपने गले में तख्ती लगा के चलेंगे, जैसे उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा के गुंडे चलते हैं और कहते हैं कि हमें बख्श दो।’’ आदित्यनाथ ने तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी पर आरोप लगाया कि वह एक ‘‘भ्रष्ट’’ अधिकारी को बचाने की कोशिश कर रही हैं और इससे ज्यादा ‘‘शर्मनाक और असंवैधानिक’’ कुछ नहीं हो सकता कि एक मुख्यमंत्री इसलिए धरने पर बैठी हैं कि कहीं ‘‘भ्रष्टाचार से जुड़े राज’’ बाहर न आ जाएं।

पड़ोसी राज्य झारखंड के बोकारो तक हेलीकॉप्टर से आने के बाद सड़क मार्ग से पश्चिम बंगाल के पुरुलिया पहुंचे आदित्यनाथ ने चिटफंड घोटालों के सिलसिले में कोलकाता के पुलिस आयुक्त से पूछताछ की सीबीआई की कोशिश का विरोध करने को लेकर ममता पर निशाना साधा। उल्लेखनीय है कि बंगाल में आदित्यनाथ का हेलीकॉप्टर उतरने की अनुमति नहीं दी गई थी। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में भाजपा की सरकार बन जाने पर ‘‘तृणमूल कांग्रेस के गुंडों’’ को जेल में डाल दिया जाएगा और वे वैसे ही ‘‘दया की भीख’’ मांगते फिरेंगे, जैसे उत्तर प्रदेश में ‘‘सपा और बसपा के गुंडों’’ पर लगाम कसी गई है। रैली को संबोधित करते हुए आदित्यनाथ ने ममता पर आरोप लगाया कि वह बंगाल के गरीबों का शोषण कर रही हैं और केंद्रीय योजनाओं का लाभ राज्य के लोगों तक नहीं पहुंचने दे रही।

आदित्यनाथ ने उच्चतम न्यायालय के उस आदेश का भी जिक्र किया जिसमें कोलकाता के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार को सारदा घोटाले की जांच में सहयोग करने को कहा गया है। आदित्यनाथ ने सवाल किया कि ममता पुलिस अधिकारी को बचाने की कोशिश क्यों कर रही हैं। उन्होंने कहा, ‘‘आपने देखा होगा कि वह किस तरह एक भ्रष्ट अधिकारी को बचाने की कोशिश कर रही है। इससे ज्यादा शर्मनाक, अलोकतांत्रिक और असंवैधानिक कुछ नहीं हो सकता कि किसी राज्य की मुख्यमंत्री यह सुनिश्चित करने के लिए धरना पर बैठी हो कि भ्रष्टाचार के राज बाहर न आ जाएं।’’ पुरुलिया में पिछले साल राजनीतिक हिंसा हुई थी। भाजपा के तीन कथित समर्थकों की हत्या कर दी गई और उनके शव पेड़ों से लटके पाए गए थे। एक शव हाई टेंशन तार से लटका पाया गया था। इन मामलों पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह सहित अन्य नेताओं ने आक्रोश जाहिर किया था। इससे पहले, दिन में ममता ने आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा था कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को पश्चिम बंगाल में घूमने की बजाय अपने राज्य पर ध्यान देना चाहिए।

ममता की इस टिप्पणी पर भाजपा नेता आदित्यनाथ ने कहा, ‘‘मैं ममता जी को बताना चाहता हूं कि उत्तर प्रदेश का बहुत अच्छी तरह से ख्याल रखा जा रहा है….और जिस दिन पश्चिम बंगाल में भाजपा की सरकार आएगी, तृणमूल कांग्रेस के गुंडे अपने गले में तख्ती लगा के चलेंगे जैसे कि उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा के गुंडे चलते हैं और कहते हैं कि हमें बख्श दो।’’ उन्होंने कहा, ‘‘दंगे फैलाने और लोगों को परेशान करने की बजाय उत्तर प्रदेश में गुंडे अब अपनी जान की भीख मांग रहे और सुधरने के वादे कर रहे हैं। यह उत्तर प्रदेश में भाजपा का शासन है।’’ आदित्यनाथ ने कहा कि पश्चिम बंगाल के उलट उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनावों में हिंसा नहीं हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *