देश पर कुर्बानी देने के लिए हमेशा तैयार रहें : रघुवर दास

रांची. झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि देश पर जब भी संकट आये, हम सबको आपस का बैर भूलकर देश के साथ खड़ा होना चाहिए. हमें अपने सैनिकों का मनोबल बढ़ाने का काम करना चाहिए. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने देश के शहीद जवानों के लिए 2 लाख रुपये की सहयोग राशि को बढ़ाकर 10 लाख रुपये कर दिया है. उनके परिजनों को अनुकंपा पर नौकरी और घर बनाने के लिए जमीन मुहैया करायी जा रही है.

मुख्यमंत्री शनिवार को रांची के ऑड्रे हाउस में आयोजित तीन दिवसीय पराक्रम पर्व को संबोधित कर रहे थे. इस अवसर पर सर्जिकल स्ट्राइक के वीर जवानों के लिए उन्होंने हस्ताक्षर किये और भारतीय सेना के द्वारा ऑड्रे हॉउस में लगायी गयी प्रदर्शनी भी देखी. मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरे देश में 28 से 30 सितंबर तक पराक्रम पर्व मनाया जा रहा है. आज के ही दिन वर्ष 2016 में भारत के वीर जवानों ने पाकिस्तान में घुसकर आतंकवादी के अड्डों को ध्वस्त किया था. भारतीय जवानों ने अपने इस साहस और पराक्रम का पूरे विश्व में लोहा मनवाया.
उन्होंने कहा कि झारखंड ने देश को कई वीर सपूत दिये हैं. झारखंड अलबर्ट एक्का और भगवान बिरसा की जन्मभूमि है. हमें इसके गौरव को और बढ़ाना है. मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे लिए सबसे पहले राष्ट्र होना चाहिए. देश होना चाहिए. जब भी जरूरत हो, देश के लिए कुर्बान होने के लिये तैयार रहना चाहिए.
मुख्यमंत्री ने देश के लिए अपने कर्तव्य में लगे देश के जवानों को नमन करते हुए कहा कि भारत का हर व्यक्ति आपके त्याग और बलिदान के लिए आपका आभारी है. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार देश के सबसे बड़े वार मेमोरियल पार्क का निर्माण कराने का काम कर रही है, जहां झारखंड के सभी शहीद जवानों की जीवनी लिखी होगी. साथ ही कारगिल की लड़ाई का एक प्रतिरूप भी बना होगा. इसे देखकर राज्य के युवा अपने देश के लिए अपने कर्तव्य को समझ सकें एवं उनका मनोबल भी बढ़ सके.
इस अवसर पर मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी, गृह विभाग के प्रधान सचिव एसकेजी रहाटे, सेना के अधिकारी एवं पदाधिकारी, एनसीसी एवं कस्तूरबा विद्यालय के बच्चे भी उपस्थित थे.