पाक राष्ट्रपति चुनाव : इमरान की पार्टी के आरिफ अल्वी की जीत मानी जा रही तय, मंगलवार देर शाम तक हो सकती है घोषणा

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में राष्ट्रपति चुनाव के लिए आज मतदान होने वाला है। कुछ दिन पहले हुए चुनाव में पाक में इमरान खान की पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनी और खान देश के प्रधानमंत्री बने हैं। राष्ट्रपति चुनाव में भी माना जा रहा है कि सत्ताधारी दल तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के उम्मीदवार आरिफ अल्वी की ही जीत होगी। चुनाव नतीजों की घोषणा भी मंगलवार देर शाम तक हो सकती है।

मौजूदा राष्ट्रपति ममनून हुसैन का कार्यकाल 8 सितंबर को खत्म होना है। अल्वी की जीत तय मानी जा रही है, लेकिन फिर भी विपक्ष की तरफ से कुछ उम्मीदवार रेस में हैं। इस चुनाव में बिलावल भुट्टो की पाकिस्तान पीपल्स पार्टी (पीपीपी) ने एतजाज अहसान को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया है। पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) और मुत्तहिदा मजलिस. ए. अमाल, अवामी नैशनल पार्टी, पख्तूनवा मिल्ली अवामी पार्टी और नैशनल पार्टी ने जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम के प्रमुख मौलाना फजलुर रहमान को प्रत्याशी बनाया है।

पाकिस्तान में राष्ट्रपति चुनाव की प्रक्रिया भारत से थोड़ी अलग है। राष्ट्रपति चुनाव में संसद के सदस्य एक वोट देते हैं। प्रांतीय असेंबली के सदस्यों के वोट की गिनती एक दूसरी व्यवस्था के तहत होती है। पाकिस्तान में चार प्रांतीय असेंबली हैं जिनके आकार और जनसंख्या में काफी फर्क है। इसके बावजूद भी सभी के मत का महत्व एक समान है। देश की सबसे छोटी असेंबली बलूचिस्तान + की है। बलूचिस्तान में 65 सदस्यों के पास एक-एक वोट देने का अधिकार है। सबसे अधिक सदस्यों वाली पंजाब असेंबली के सदस्य हैं। इसलिए उनके वोट को एक वोट का छठे हिस्से के तौर पर गिना जाता है। मुख्य चुनाव आयुक्त सरदार रजा खान रिटर्निंग ऑफिसर के रूप में इस चुनाव की देखरेख कर रहे हैं। अल्वी दंत चिकित्सक से नेता बने हैं। ऐसा कहा जाता है कि वह इमरान खान के राजनीतिक करियर के दौरान उनके साथ डटे रहे थे। विपक्षी दलों में मतभेद की वजह से इनके आसानी से चुनाव जीतने की संभावना है।