रक्षा बंधन 2018 : ज्योतिषियों के अनुसार इस बार 11 घंटे तक राखी बांधने का समय है

नई दिल्ली। सावन मास की पूर्णिमा को भाई-बहन का त्योहार रक्षा बंधन मनाया जाता है। इस बार भद्रा नहीं होने के कारण विशेष संयोग भी रक्षा बंधन के दिन बन रहा है। इस बार बहनें शाम 5 बजे तक अपने भाईयों को राखी बांध सकेंगी। ज्योतिषियों के अनुसार इस बार 11 घंटे तक राखी बांधने का समय है। कई जगह अभी भी राखी बांधने तक भाई और बहन दोनों उपवास रखते हैं। राखी बांधने के बाद बहन भाई को मिठाई खिलाती है और आशीर्वाद देती है, तो भाई अपनी बहन की सुरक्षा का वचन देता है।

अलग-अलग जगह की अलग-अलग मान्यताएं है। लेकिन अधिकतर जगह टीका करके भाई की आरती उतारी जाती है और उसकी दाहिनी कलाई पर राखी बांधी जाती है। थाली में रखे पैसों को भाई पर न्योछावर किया जाता है और भाई-बहन एक दूसरे को मिठाई खिलाते हैं।

ऐसे सजाएं भाई के लिए रक्षा बंधन पर थाली : राखी की थाली में कुमकुम, हल्दी, चावल, राखी और कुछ पैसे रखे जाते हैं। इसके अलावा कलश में पानी और आरती के लिए ज्योति भी रखी जाती है। इसके साथ ही भाई की पसंदीदा मिठाई भी रखी जाती है।

इस समय राखी बांधने से बचें : 26 अगस्त के दिन शाम 4:30 से 6 बजे तक राहुकाल रहेगा। इस समय अवधि के अलावा किसी भी समय राखी बांधी जा सकेगी।