कला इंसानों में मानवीय गुणों के विकास में महत्वपूर्ण होती है : शबाना

मुंबई। सामाजिक रूप से कई चीजों को लेकर जागरूक रहने वाली और कला की प्रशंसक दिग्गज अभिनेत्री शबाना आजमी का कहना है कि हमारे समाज में हम कला की देखरेख नहीं करते हैं। शबाना आजमी ने मुंबई में शनिवार को ‘‘ओडिशा ट्राइएनियल ऑफ इंटरनेशनल आर्ट’ कार्यक्रम के दौरान मीडिया से बात की। इस बात के बारे में बात करते हुए कि कला कैसे इंसानों में मानवीय गुणों के विकास में महत्वपूर्ण होती है, शबाना ने कहा, मुझे लगता है कि कला का हर रूप एक इंसान के अंदर मानवीय गुण विकसित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है ताकि वह अपना दृष्टिकोण कायम कर सके और एक पूर्ण इंसान बन सके। लेकिन, हम कला के उस पहलू की देखरेख नहीं करते हैं। अभिनेत्री ने कहा कि कला को संरक्षण और प्रोत्साहन प्रदान करना चाहिए। स्कूली दिनों से ही बच्चों को कला के विभिन्न स्वरूपों से वाकिफ कराना चाहिए। ‘‘ओडिशा ट्राइएनियल ऑफ इंटरनेशनल आर्ट’ (ओटीआईए) कार्यक्रम भुवनेश्वर, पुरी और कोर्णाक में आयोजित होगा। (आईएएनएस)