अलवर कांड : राहुल का पीएम मोदी पर हमला, संसद में भी उठा मुद्दा

नई दिल्ली. अलवर में एक 31 वर्षीय युवक रकबर की कथित गोरक्षकों की भीड़ द्वारा पीट-पीटकर हत्या मामले में पुलिस की भूमिका पर सवाल उठ रहे हैं। इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजस्थान पुलिस पर सवाल उठा पीएम मोदी पर तीखा हमला बोला है। विपक्ष ने सोमवार को संसद में भी अलवर मॉब लिन्चिंग का मामला उठाया और केंद्र पर हमला बोला।
कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट किया, ‘अलवर में पुलिस वालों ने मॉब लिन्चिंग के शिकार रकबर खान को महज 6 किलोमीटर स्थित अस्पताल पहुंचाने में 3 घंटे लगाए, जबकि पीड़ित मरणासन्न था। क्यों? उन्होंने रास्ते में टी-ब्रेक भी लिया। यह मोदी का क्रूर ‘न्यू इंडिया’ है, जहां मानवता की जगह नफरत ने ले ली है और लोगों को कुचला जा रहा है, मरने के लिए छोड़ा जा रहा है।’

दूसरी तरफ, राजस्थान के गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया ने उन मीडिया रिपोर्ट्स का संज्ञान लिया है जिसमें अलवर पुलिस की घोर लापरवाही की बात कही गई है। कटारिया ने कहा, ‘कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस ने पीड़ित को अस्पताल पहुंचाने में देरी की। हम इन सूचनाओं की सत्यता की जांच कर रहे हैं और अगर यह सच पाई गई तो इसके लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।’ लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी अलवर मॉब लिन्चिंग को लेकर मोदी सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। खड़गे ने कहा कि सरकार देश में इस तरह की घटनाओं को प्रोत्साहित कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार नहीं चाहती कि देश में हालात सुधरे।

AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी ने भी राजस्थान पुलिस पर हमला बोलते हुए उसके हिंसक गोरक्षकों से गंठजोड़ का आरोप लगाया है। अलवर कांड पर ओवैसी ने कहा, ‘राजस्थान पुलिस की करतूत से मुझे कोई हैरानी नहीं हुई, उन्होंने पहलू खान मर्डर केस में भी ऐसा ही किया था। राजस्थान पुलिस गोरक्षकों को सपोर्ट कर रही है। ये गोरक्षक और पुलिस साथ-साथ हैं।’

बता दें कि चश्मदीदों के मुताबिक पुलिस ने जख्मी रकबर उर्फ अकबर खान को अस्पताल पहुंचाने में 3 घंटे की देरी की, जबकि मौके पर मिलीं गायों को सबसे पहले गोशाला पहुंचाया गया। शुक्रवार को 31 साल के अकबर खान उर्फ रकबर को कथित गोरक्षकों की भीड़ ने पीट-पीटकर अधमरा कर दिया था, जिनकी बाद में मौत हो गई। पिछले साल, अलवर में ही पहलू खान नाम के एक डेयरी कारोबारी की हिंसक भीड़ ने गोतस्करी के शक में पीट-पीटकर हत्या कर दी थी।