एशिया के 16 देशों के व्यापार के बीच लंबित मुद्दों पर वार्ता में तेजी लाने पर सहमति

तोक्यो। एशिया के 16 देशों के व्यापार मंत्रियों और अधिकारियों के बीच लंबित मुद्दों पर वार्ता में तेजी लाने पर सहमति बनी है। इन देशों का इस साल के अंत तक क्षेत्रीय व्यापार करार पर मूल सहमति बनाने की है। सप्ताहांत की बैठकों में जापान के प्रधानमंत्री शिन्जो अबे ने बढ़ते अमेरिकी संरक्षणवाद के बीच अन्य देशों के नेताओं के साथ क्षेत्रीय वृहद आर्थिक भागीदारी (आरसीईपी) को जल्द पूरा करने को काम करने के लिए कहा है।

वार्ता के बाद कल संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में जापान के आर्थिक, व्यापार और उद्योग मंत्री हिरोशिगे सेको तथा सिंगापुर के व्यापार मंत्री चान चुन सिंग ने कहा कि अभी कई मुद्दे हैं जिनपर सहमति बनना बाकी है। उन्होंने कहा कि भागीदार देशों को इस पर सहमति बनने की उम्मीद है, क्योंकि यह मुक्त व्यापार के प्रति एशिया की प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

चान ने कहा, ‘‘यह हमारे लिए मौके का लाभ उठाने का अवसर है , क्योंकि वैश्विक स्तर पर हम व्यापार संबंधों तथा व्यापार व्यवस्थाओं में बाधाएं आ रही हैं। इससे पहले अबे ने बयान में कहा कि उन देशों के बीच करार जिनमें वैश्विक आधी आबादी आती है, से वृद्धि की व्यापक संभावनाएं हैं।