मेजर निखिल हांडा की पर्सनल लाइफ का घ‍िनौना चेहरा धीरे धीरे आ रही है दुनिया के सामने 

शैलजा द्विवेदी की हत्या मामले में कई चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं. खासकर आरोपी मेजर निखिल हांडा की पर्सनल लाइफ का घ‍िनौना चेहरा धीरे धीरे दुनिया के सामने आ रही है. पुलिस सूत्रों के अनुसार शैलजा द्विवेदी अकेली नहीं थी, जिसे मेजर हांडा ने गर्लफ्रेंड बनने के लिए एप्रोच किया था. इंडियन एक्‍सप्रेस की रिपोर्ट में पुलिस सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि मेजर हांडा फेक प्रोफाइल बनाकर लड़कियों को अपने जाल में फंसाता था. निखिल हांडा के पास से 2 फोन मिले. फोन की जांच के बाद पता चला कि शैलजा के अलावा हांडा दिल्‍ली की 3 और लड़कियों के टच में था. पुलिस उन्‍हें भी बयान देने के लिए बुलाने वाली है.

सूत्रों के अनुसार मेजर हांडा की 2 प्रोफाइल थी, एक में उसने खुद को आर्मी अफसर बताया था तो दूसरे में उसने खुद को दिल्‍ली का एक बड़ा कारोबारी. दूसरे फेक प्रोफाइल का इस्‍तेमाल मेजर लड़कियों से दोस्‍ती करने को करता था. इसी तरह जब मेजर हांडा 2015 में कश्‍मीर में पोस्‍टेड था तो उसने शैलजा से फेक प्रोफाइल के जरिए दोस्‍ती कर ली. 6 महीने के बाद उसने अपनी असली पहचान जाहिर की थी, जब शैलजा ने उससे मिलने के लिए हामी भरी थी.

सूत्रों के अनुसार फ‍िर उसका ट्रांसफर मेरठ हो गया था, हालांकि उसने अपील की कि उसे नगालैंड के दिमापुर ट्रांसफर कर दिया जाए. दिमापुर में वह शैलजा से लगातार मिलने लगा और फ‍िर शैलजा ने उसे अपने पति से मिलवाया और अपने घर में पार्ट‍ियों में इनवाइट करने लगी. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मेजर ने बयान दिया है कि शैलजा ने उसका कोर्ट मार्शल करवाने की धमकी भी दी थी.

आपको बता दें कि दिल्ली पुलिस ने खुलासा किया था कि भारतीय सेना के मेजर अमित द्विवेदी की पत्नी शैलजा द्विवेदी की हत्या मामले में आरोपी मेजर निखिल हांडा ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया है. पुलिस के मुताबिक, हांडा ने कहा है कि जब शैलजा ने उसके साथ एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर आगे जारी रखने से इनकार कर दिया तब उसने हत्या कर दी. शनिवार को दिल्ली में शैलजा की बॉडी बरामद की गई थी. हत्या के आरोप में रविवार को आर्मी ऑफिसर मेजर निखिल हांडा को गिरफ्तार कर लिया गया है. शैलजा की उम्र 35 साल थी और वह मूल रूप से अमृतसर की रहने वाली थी.

पुलिस जांच में ये सामने आया है कि आरोपी मेजर हांडा और शैलजा के बीच अफेयर था. दोनों के बीच इतनी करीबियत थी कि बीते 6 महीने में आरोपी ने शैलजा को 3000 बार कॉल किया था.