नागरिकों के हित की बात करना देश विरोधी कैसे : कांग्रेस

नई दिल्ली. अपने दो नेताओं की ओर से कश्मीर मुद्दे पर दिए गए बयान के संदर्भ में कांग्रेस ने पहली बार प्रतिक्रिया जाहिर की है. कांग्रेस ने शुक्रवार को सफाई देते हुए कहा कि सेना या सुरक्षा बल के जवान जब भी कार्रवाई करते हैं तो उनकी कोशिश होती है कि कोई आतंकवादी या माओवादी न बचने पाए. उन्होंने कहा कि लेकिन कार्रवाई के दौरान कोई निर्दोष व्यक्ति न मारा जाए, इसकी बात करना एंटी नेशनल, देशद्रोह कैसे हो जाता है.
रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और आगे भी वह भारत का अभिन्न हिस्सा बना रहेगा. अगर कोई एक किताब बेचने के लिए ‘सस्ते हथकंडे’ अपना रहा है तो उससे शाश्वत सत्य नहीं बदल जाता है कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है.

कांग्रेस प्रवक्ता ने सैफुद्दीन सोज और गुलाब नबी आजाद के बयान को खारिज कर दिया है.  उन्होंने कहा, ‘विभिन्न तरह के लोग हैं, विभिन्न तरह के बयान देते रहते हैं. हम इस तरह के बयान को पूरी तरह से खारिज करते हैं.’
गौरतलब है कि राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद के उस बयान पर हंगामा मच गया है कि जिसमें उन्होंने कहा कि घाटी में चल रहे सेना के ऑपरेशन में आतंकी कम नागरिक ज्यादा मारे जा रहे हैं.वहीं सैफुद्दीन सोज ने पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ के उस बयान का समर्थन किया है जिसमें उन्होंने कहा था कि कश्मीरी आजादी चाहते हैं. शुक्रवार सुबह जब इस मुद्दे पर आजतक ने उनसे बात की तो वह सवालों पर बौखला गए और बीच में ही इंटरव्यू छोड़ कर भाग गए.