इंग्लैंड दौरे पर जाएंगे रोहित शर्मा

बेंगलुरु. टीम इंडिया के स्टार ओपनिंग बल्लेबाज रोहित शर्मा ने यो-यो टेस्ट पास कर लिया है. बुधवार को बेंगलुरु के एनसीए में यो-यो फिटनेस टेस्ट पास करने के बाद अब वह टीम इंडिया के साथ ब्रिटेन दौरे पर जा सकेंगे.
रोहित शर्मा ने खुद यो-यो टेस्ट पास करने के बाद इस बात की जानकारी इंस्टाग्राम पर दी है. उन्होंने इंस्टाग्राम पर अपनी पोस्ट शेयर करते हुए लिखा, ‘यो-यो टेस्ट क्लियर अब जल्द ही आयरलैंड में मिलते हैं.’
बता दें कि रोहित शर्मा के स्टैंडबाय के तौर पर अजिंक्य रहाणे को रखा गया था, लेकिन अब रोहित के यो-यो टेस्ट में पास हो जाने की वजह से इन तमाम अटकलों पर विराम लग गया है.
इससे पहले इंग्लैंड दौरे के लिए चुने गए खिलाड़ियों (अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट खेलने वालों को छोड़कर) ने 15 जून के यो-यो टेस्ट दिया था. इस टेस्ट में रोहित शामिल नहीं हुए थे. रोहित एक घड़ी कंपनी के ब्रांड दूत के तौर पर रूस में थे और उन्होंने बीसीसीआई से 15 जून को इस टेस्ट में भाग नहीं लेने की अनुमति ली थी.
तब से हालांकि यह बात स्पष्ट नहीं हो पा रही थी कि उनके फिटनेस टेस्ट की तारीख को लगातार क्यों बदला जा रहा है. कप्तान विराट कोहली के अलावा वनडे में रोहित टीम के दूसरे सबसे महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं और आगामी इंग्लैंड दौरे पर उनके सीमित ओवरों में अहम भूमिका निभाने की उम्मीद है.
बीसीसीआई से जुड़े सूत्रों ने बताया था कि रोहित टीम के इंग्लैंड पहुंचने पर इस फिटनेस टेस्ट को देना चाहते थे, लेकिन बीसीसीआई ने उन्हें साफ कर दिया कि इस टेस्ट का भारत में अनिवार्य है.
रोहित ने अपनी फिटनेस पर सवाल उठाने वालों पर निशाना भी साधा. उन्होंने ट्वीट किया, ‘ मैं अपना समय कहां और कैसे बिताता हूं इस बारे में किसी को दखल देने का हक नहीं है. जब तक मैं नियमों का पालन करता हूं तब तक मुझे अपने तरीके से समय बिताने का अधिकार है. असल मुद्दों पर चर्चा करिए. बताना चाहूंगा कि यो-यो टेस्ट में सफल होने के लिए मुझे एक मौका मिला जो आज था.’
बीसीसीआई के महाप्रबंधक (क्रिकेट परिचालन) सबा करीम ने पीटीआई से कहा , ‘रोहित के लिए 15 जून को यो-यो टेस्ट देना अनिवार्य नहीं था, क्योंकि उन्होंने पहले से मंजूरी ली थी.