पाकिस्तान : एग्जामिनर पर 80 से ज्यादा छात्राओं के साथ यौन दुर्व्यवहार करने का लगाया आरोप

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में करीब एक दर्जन से ज्यादा कॉलेज छात्राओं ने फेडरल बोर्ड ऑफ इंटरमीडिए ऐंड सेकंडरी एजुकेशन की तरफ से भेजे गए एग्जामिनर पर 80 से ज्यादा छात्राओं के साथ यौन दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया है। यह मामला पाकिस्तान के प्रतिष्ठित बहरिया कॉलेज के बायॉलजी प्रैक्टिल के दौरान का है।

‘डेली पाकिस्तान’ और ‘डॉन न्यूज’ की खबर के मुताबिक, इस्लामाबाद मॉडल कॉलेज में टीचर सादत बशीर पर करीब 80 लड़कियों को गलत तरीके से छूने, टटोलने और नंबर काटने की धमकी देने का आरोप है। पीड़िताओं में से एक ने सोशल मीडिया पर पूरा वाक्या शेयर किया है। एक पीड़िता ने फेसबुक पोस्ट में लिखा, ‘शनिवार (26 मई) को हमारा बायॉलजी HSC पार्ट 2 का प्रैक्टिकल था। यह तीन अलग-अलग ग्रुप में हुआ। पहले ग्रुप का प्रैक्टिकल शुक्रवार को, दूसरे का शनिवार को और तीसरे ग्रुप का प्रैक्टिकल रविवार को हुआ।’

पीड़िता ने आगे लिखा, ‘हमें पहले ग्रुप ने बताया था कि एग्जामिनर बहुत सख्त हैं, टीचर्स की नहीं सुनते और वह टीचर्स को लैबरेटरी के अंदर तक नहीं आने देते जहां उन्होंने कई लड़कियों को जांघों के बीच छुआ, कुछ को पीछे और यहां तक कि स्तन भी छुए। उन्होंने मुझे दो बार टटोला। एक बार जब मैं मॉडल की पहचान के लिए गई तो उन्होंने मेरे कूल्हे छुए और दूसरी बार जब मैं स्लाइड्स बना रही थी तब। वह मेरे पीछे आए और मेरी ब्रा की स्ट्रैप छूने लगे। यह सब उन्होंने ऐसे किया जैसे वह बस मेरी स्लाइड्स जांच रहे हों।’

पोस्ट में आगे लिखा है, ‘तीसरी बार जब मैं मेंढक की चीड़फाड़ कर रही थी तो वह मेरे पास आए और पूछा कि यह किस तरह का मेंढक है। मैं बहुत परेशान हो गई और उन्हें बताया कि यह नर मेंढक है। इसके बाद उन्होंने बेहद बेकार तरीके से जवाब दिया कि यह मादा मेंढक है, क्या तुमको इसके अंडाशय नहीं दिख रहे। यह तुम्हारे अंदर भी हैं।’

लड़की ने आगे लिखा, ‘इस सबकी वजह से मैं बहुत असहज हो गई थी और मुझे समझ नहीं आ रहा था कि क्या करूं। हम में से किसी ने उनसे कुछ नहीं कहा क्योंकि वह लगातार नंबर काटने की धमकी दे रहे थे।’