भारत को अपने कचरे के प्रबंधन के लिए मजबूत प्रतिबद्धता की जरूरत

सिंगापुर। विशेषज्ञों का कहना है कि भारत को कचरा प्रबंधन पर मजबूत प्रतिबद्धता और नीतिनिर्माता, नौकरशाह एवं जनता सहित सभी पक्षों के एकजुट प्रयास की जरूरत है। विशेषज्ञों ने यह आह्वान एक पुस्तक के विमोचन के दौरान किया। इस पुस्तक में खराब हो चुके मोबाइल फोनों, प्रयोग हो चुकीं प्लास्टिक बोतलों और अन्य वस्तुओं सहित कचरे के प्रबंधन की चुनौतियों का जिक्र किया गया है। पुस्तक ‘‘वेस्ट आफ ए नेशन : सोशल एंड एनवायरमेंटल चैलेंजेस फार इंडिया’ के सहलेखक प्रोफेसर रोबिन जेफ्री ने कहा कि कचरे की समस्या का समाधान एकजुट प्रयास है। हैदराबाद के ‘‘रैम्की एनवायरो इंजीनियर्स लिमिटेड ’ के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम गौतम रेड्डी ने कहा कि भारत में कूड़ा प्रबंधन शुरुआती चरण में है और अभी बहुत कुछ करने जरूरत है। (भाषा)